TRAU FC के कोमरोन तुर्सुनोव ने I-League में सबसे तेज गोल कर रचा इतिहास

तजाकिस्तान के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जापानी मिडफील्डर कात्सुमी युसा के रिकॉर्ड को ध्वस्त कर दिया।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

TRAU FC के तजाकिस्तानी खिलाड़ी कोमोरन तुर्सुनोव (Komron Tursunov) ने रविवार को आई-लीग (I-League) इतिहास का सबसे तेज गोल दोग दिया।

रियल कश्मीर एफसी (Real Kashmir FC) के खिलाफ TRAU FC के आई-लीग 2021 के पहले मैच को शुरू हुए सिर्फ 9 सेकेंड ही हुए थे, जब तुर्सुनोव ने रियल कश्मीर के गोलकीपर मिथुन सामंत (Mithun Samanta) को पछाड़ते हुए गोलपोस्ट में गेंद डालकर अपनी टीम को बढ़त दिला दी।

कोमोरन तुर्सुनोव के इस चमत्कारी गोल ने जापानी खिलाड़ी कात्सुमी युसा के रिकॉर्ड को तोड़ दिया, जिन्होंने 13वें सेकंड में I-League 2018-19 के दौरान चर्चिल ब्रदर्स (Churchill Brothers) के खिलाफ NEROCA FC के लिए खेलते हुए गोल किया था।

हालांकि तजाकिस्तानी अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी का ये चमत्कारी गोल मणिपुर की फुटबॉल टीम को सिर्फ एक अंक ही दिला सका।

रियल कश्मीर के स्कॉटिश खिलाड़ी मेसन रॉबर्टसन (Mason Robertson) (हेड कोच डेविड रॉबर्टसन के बेटे) ने 70 वें मिनट में गोल कर स्कोरलाइन को बराबरी पर ला दिया, जिसके बाद कोई गोल नहीं हो सका और मैच 1-1 से बराबरी पर समाप्त हुआ।

24 वर्षीय कोमोरन तुर्सुनोव मोहन बागान की उस टीम का हिस्सा थे, जिसने आई-लीग 2019-20 में ख़िताबी जीत हासिल की और उस टीम के साथ खेलते हुए उन्होंने कोलकाता की दिग्गज टीम के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, इस दौरान उन्होंने दो गोल दागे और मारिनर्स के लिए अपने आठ मैचों में कई असिस्ट भी दिए।

वो इस सीज़न में एल नंदकुमार सिंह की TRAU FC टीम में शामिल हो गए हैं और भारत में वो अपना दूसरा आई-लीग खिताब जीतने की कोशिश करेंगे।

भारतीय सरजमीं पर खेलने से पहले कोमरोन तर्सुनोव ने 2018 और 2019 में बैक-टू-बैक ताजिक लीग खिताब जीतने में अपनी टीम के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उन्होंने 2019 में इस्तिकोल के लिए खेलते हुए ताजिक कप और ताजिक सुपर कप भी जीता।

इससे पहले वो Regar-TadAZ के लिए खेलते थे और अपनी टीम के लिए 57 मैचों में 32 गोल किए।

2018 में तजाकिस्तान के लिए अपना अंतरराष्ट्रीय डेब्यू करने के बाद, तुर्सुनोव अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए नियमित खिलाड़ी हैं और अपने देश के लिए 16 मैचों में चार बार गोल कर चुके हैं।

इस युवा स्ट्राइकर के अंतरराष्ट्रीय गोलों में से एक गोल भारत के खिलाफ भी आया है, जब उन्होंने अहमदाबाद में खेलते हुए 2019 इंटरकांटिनेंटल कप में इगोर स्टिमैक (Igor Stimac) की देख-रेख में खेल रही भारत के खिलाफ गोल किया था।