2019 कोरिया मास्टर्स में कितना चुनौतीपूर्ण है भारतीय खिलाड़ियों का सफ़र?

समीर वर्मा और सुभंकर डे का मुकाबला थोड़ा मुश्किल साबित होगा, जबकि श्रीकांत किदांबी आसानी से ही आगे बढ़ सकते हैं।

लेखक रितेश जायसवाल ·

दक्षिण कोरिया के ग्वांगजू शहर के वूमेंस यूनिवर्सिटी स्टेडियम में मंगलवार (19 नवंबर) से ग्वांगजू कोरिया मास्टर्स शुरू हो रहा है। जहां कुछ भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों के मुकाबले मुश्किल तो कुछ के आसान साबित हो सकते हैं।

किदांबी से हैं उम्मीदें

शुरुआती मुकाबला श्रीकांत किदांबी और हांगकांग के वोंग विंग के बीच होगा। जिसपर सभी भारतीय प्रशंसकों की नज़रे होंगी। इन दोनों खिलाड़ियों का 13 बार एक-दूसरे से सामना हो चुका है, जिनमें श्रीकांत 10 मुकाबलों में विजेता रहे हैं। इसमें एक-दूसरे के साथ खेले गए उनके आखिरी पांच मैच भी शामिल हैं।

दूसरे राउंड में पहुंचने पर इस भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी का मुकाबला जापान के कांता सुनामीया या फिर मलेशिया के लिएउ डैरन से हो सकता है। ऐसे में अगर श्रीकांत का मुकाबला लिएउ से होता है तो उन्हें थोड़ी मुश्किल ज़रूर पेश आ सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि लिएउ से हुए तीनों मुकाबलों में श्रीकांत को हार का सामना करना पड़ा है।

बीते सप्ताह इस भारतीय शटलर ने हांग कांग ओपन सुपर 500 में शानदार प्रदर्शन करते हुए सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाने में सफलता हासिल की। हालांकि, उनका सफर आगे नहीं बढ़ सका और वह इस सीज़न में एक बार फिर सफलता हासिल करने से चूक गए।

वर्मा को दिखाना होगा दम

समीर वर्मा का पहले राउंड में मुकाबला चीन के शी यू क्यूई से होगा। सातवें पायदान पर काबिज़ यू क्यूई और वर्मा ने एक-दूसरे के खिलाफ छह मुकाबले खेले हैं जिनमें से पांच में भारतीय खिलाड़ी को शिकस्त मिली है.

कोरिया मास्टर्स में ओपनिंग राउंड में चीन के शी यू की से होगा समीर वर्मा का सामना

चीनी खिलाड़ी के खिलाफ वर्मा की एकमात्र जीत पिछले साल डेनमार्क ओपन में आई थी। इस स्थिति में वह अपनी खराब फॉर्म को पीछे छोड़ते हुए कोरिया में एक बार फिर शानदार प्रदर्शन करने की उम्मीद करेंगे।

शुभंकर के सामने है कड़ी चुनौती

सुभंकर डे का ड्रा सबसे मुश्किल नज़र आ रहा है, क्योंकि पहले राउंड में उनका मुकाबला चौथी रैंकिंग वाले चेन लोंग से होगा। पिछले सप्ताह ओलंपिक चैंपियन लोंग चेन को हांग कांग ओपन क्वार्टर फाइनल में चोटिल होने के कारण बाहर होना पड़ा था। ऐसे में लोंग इस मुकाबले में बेहतरीन वापसी करने की कोशिश करेंगे। लोंग इसी साल की शुरुआत में ही स्विस ओपन में 44वें वरीयता प्राप्त खिलाड़ी डे को सीधे मुकाबलों में हरा चुके हैं।

साइना नेहवाल भी इस इवेंट में हिस्सा लेने वाली थीं, लेकिन फिर उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया। अब महिला एकल वर्ग में कोई भारतीय खिलाड़ी हिस्सा नहीं लेगा। हालांकि अगले सप्ताह नेहवाल के सैयद मोदी इंटरनेशनल सुपर 300 में शामिल होने की उम्मीद है।

कहां देख सकते हैं कोरिया मास्टर्स

सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबले स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क और हॉटस्टार पर प्रसारित किए जाएंगे। जिन्हें आप 23 व 24 नवंबर को भारतीय समयानुसार सुबह 9:30 बजे से देख सकते हैं।