अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग के साथ लक्ष्य सेन ने किया सीज़न का अंत

इस युवा भारतीय शटलर ने हाल ही में बांग्लादेश चैंलेंजर ख़िताब अपने नाम किया है।

लेखक अरसलान अहमर ·

युवा भारतीय शटलर लक्ष्य सेन बीते कुछ समय से अपने शानदार खेल से सभी का ध्यान अपनी ओर खींचने में सफल रहे हैं। यह उनके बेहतरीन खेल का ही नतीजा है कि बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में 9 पायदान की छलांग लगाते हुए वह अब अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग 32वें स्थान पर पहुंच गए हैं। 18 वर्षीय इस युवा भारतीय खिलाड़ी ने हाल ही में बांग्लादेश इंटरनेशनल चैलेंज के फाइनल में मलेशिया के लीओंग जुन हाओ को 22-20, 21-18 से मात देते हुए ख़िताब पर अपना कब्ज़ा जमाया था। आपको बता दें यह लक्ष्य का पांचवां अंतरराष्ट्रीय ख़िताब है।

इस टूर्नामेंट में लक्ष्य ने अव्वल दर्जे का खेल दिखाते हुए सभी मुक़ाबलों को अपने नाम किया और वह भी बिना कोई गेम हारे। ढाका में इस लाजवाब प्रदर्शन का फल उन्हें बीडब्ल्यूएफ रैंकिंग में मिला जहां वह अब 9 स्थान ऊपर आ गए हैं। रैंकिंग में सुधार की वजह से अब लक्ष्य की टोक्यो 2020 में जाने की संभावनाएं भी बढ़ गईं है।

शानदार रहा है सीज़न

पिछला एक साल लक्ष्य के लिए बेहद ही शानदार रहा है जहां वह बीडब्ल्यूएफ प्रतियोगिताओं में अपने दमदार खेल की बदौलत अंतरराष्ट्रीय मंच पर अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहे हैं। बांग्लादेश चैलेंजर से पहले उन्होंने स्कॉटिश ओपन, सारलोरलक्स ओपन, नीदरलैंडस ओपन और अक्टूबर में डच ओपन का खिताब अपने नाम किया था़।

इसके अलावा लक्ष्य ने सितंबर में हुए बेल्जियन ओपन में भी जीत हासिल की थी जहां उन्होंने फाइनल में डेनमार्क के विक्टर स्वेंडसेन को शिकस्त दी थी। इसके साथ ही यह भारतीय शटलर 2019 पॉलिश ओपन के फाइनल तक पहुंचने में कामयाब रहे थे जहां एक कड़े मुकाबले में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

रैंकिंग में कहां हैं अन्य भारतीय खिलाड़ी?

लक्ष्य सेन के अलावा पुरुष युगल में भारतीय जोड़ी सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी 12वें स्थान पर काबिज़ हैं। इस साल यह जोड़ी थाईलैंड ओपन जीतने के साथ-साथ फ्रेंच ओपन के फाइनल में अपनी जगह बनाने में सफल रही थी।

मेंस सिंग्लस में बी साई प्रणीत 11वें जबकि भारत के स्टार शटलर किदांबी श्रीकांत 12वें स्थान पर बने हुए हैं। पूर्व कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडल विजेता पारूपल्ली कश्यप रैंकिंग में 23वें पायदान पर हैं। इसके बाद नंबर आता है एचएस प्रणय (26वें), सौरभ वर्मा (28वें), समीर वर्मा (33वें) और शुभंकर डे (44वें) का। पुरुष युगल की रैंकिंग में कोई भी भारतीय जोड़ी टॉप-10 में अपनी जगह बनाने में असफल रही है।

महिला एकल की बात करें तो भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी और ओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु छठे स्थान पर हैं जबकि 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज़ जीतने वालीं साइना नेहवाल 11वें पायदान पर बनीं हुई हैं।