ऑस्ट्रेलियन ओपन में लिएंडर पेस का सफ़र समाप्त 

करियर के आखिरी ऑस्ट्रेलियन ओपन में लिएंडर पेस की हार के साथ हुई विदाई। 

लेखक जतिन ऋषि राज ·

ऑस्ट्रेलियन ओपन में खेलते हुए भारतीय अनुभवी लिएंडर पेस का सफ़र मंगलवार को समाप्त हो गया। मिक्स्ड डबल्स कैटेगरी में शिरकत करते हुए पेस की जोड़ी बनयेलेना ओस्तापेंको से। दूसरे राउंड में पेस/ओस्तापेंको का सामना जेमी मरे और बेथानी मटेक सैंड्स की जोड़ी से हुआ और उन्हें इस मुकाबले में 2-6, 5-7 से हार का मुह देखना पड़ा।

टॉस जीतने के बाद सर्विस का चयन करने वाले पेस/ओस्तापेंको की जोड़ी शुरुआत से ही लयहीन दिखी। हालांकि यह साफ़ देखा जा रहा था कि पेस किसी शारीरिक समस्या से जूझ रहे हैं और इस बात का असर उनके प्रदर्शन पर भी पड़ा।

जूझते हुए पेस बैकफुट पर तब आए जब उनकी प्रतिद्वंदी जोड़ी ने उनकी पहली ही सर्विस को ब्रेक दिया। अंक तालिका अब चलने लगी थी। जेमी मरे और बेथानी मटेक सैंड्स ने रणनीति के तहत एक और बार पेस की सर्विस ब्रेक अंक बटोरे और वे अब 4-1 से आगे थे।

लिएंडर पेस और येलेना ओस्तापेंको का 2020 ऑस्ट्रेलियन ओपन 2020 का सफ़र समाप्त। 

हालांकि पेस और उनकी जोड़ीदार ने वापसी करने की कोशिश कर अपनी सर्विस को ब्रेक नहीं होने दिया, लेकिन अपने प्रतिद्वंदियों की सर्विस को ब्रेक करने में भी नाकाम रहे। इसके बाद एंग्लो-अमेरिकी जोड़ी ने शानदार खेल दिखाया और 6-2 से बढ़त बना ली।

दूसरे सेट में लिएंडर पेस का पलटवार

दूसरे सेट में पेस को थोडा ज़्यादा नियंत्रण में देखा गया और ऐसे मौके पर उनकी जोड़ीदार ओस्तापेंको ने भी बखूबी साथ निभाया। दोनों ही के रैकेट से कुछ शानदार शॉट्स देखे गए और यह कहना सही होगा कि अब इस मुकाबले में दोनों ही खिलाड़ी एक दूसरे को समझ कर अपनी चाल चल रहे थे।

तालमेल का परिणाम यह आया कि दूसरे सेट में पेस/ओस्तापेंको की जोड़ी 5-3 से आगे चल रही थी। खिलाड़ी वही है जो किसी भी स्थिति में हार न माने और इस जोड़ी ने भी अपने प्रतिद्वंदियो को हर समय चौकन्ना रखा और किसी भी मौके पर खुद को हल्का रखने की गलती नहीं की।

यह खेल है, कभी भी पलट जाता है, बस खिलाड़ी का लक्ष्य सही होना चाहिए। जेमी मरे औरबेथानी मटेक सैंड्स ने अपने खेल में बदलाव कर एक बार दोबारा आक्रामकता से खेलने का निर्णय लिया और पेस/ ओस्तापेंको की सर्व को तोड़ 6-5 से बढ़त हासिल की। इसके चलते उन्होंने मुकाबले पर अपने नाम की मुहर लगा दी और खुद को विजयी साबित किया।

लिएंडर पेस ने पिछले साल ही घोषणा कर दी थी कि 2020 उनके करियर का आखिरी सीज़न होगा और वे 2020 ओलंपिक गेम्स के साथ कुछ गिनी चुनी प्रतियोगिताओं में भाग लेंगे। पेस ने ट्विटर के ज़रिए बताया कि “2020 में होने वाली प्रतियोगिताओं पर मेरी नज़र है। मैं कुछ गिनी चुनी ही प्रतियोगिताओं में भाग लुंगा और अपनी टीम के साथ यात्रा करुंगा। इसके आलावा मैं अपने फैंस और परिवार के साथ समय बिताउंगा और जश्न मनाउंगा। आज मैं जो कुछ भी हूं, आपकी बदौलत हूं, और इस साल मैं आप सबको धन्यवाद देने के लिए ऑस्ट्रेलियन ओपन में अपना कदम रखा।

लिएंडर पेस के बाहर हो जाने के बाद अब ऑस्ट्रेलियन ओपन में सभी भारतीय दर्शकों की नज़र रोहन बोपन्ना पर होगी। आपको बता दें कि बोपन्ना ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर चुके हैं और वे मिक्स्ड डबल्स मेनाडिया किचेनो के साथ टीम बनाकर खेलते दिखेंगे।