टोक्यो ओलंपिक को ध्यान में रखते हुए लिएंडर पेस फ्रेंच ओपन के साथ प्रतिस्पर्धा टेनिस में कर सकते हैं वापसी

पेस ने ये भी बताया कि उन्होंने बायो-बबल्स में खेलने से संबंधित चिंताओं के कारण ऑस्ट्रेलियन ओपन से बाहर बैठने का फैसला किया था।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

भारतीय टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस (Leander Paes) ने सोमवार को कहा कि जुलाई-अगस्त में होने वाले टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में भाग लेना अभी भी उनका लक्ष्य है और उन्होंने संकेत दिया कि वो मई में फ्रेंच ओपन 2021 (French Open 2021) में प्रतिस्पर्धा टेनिस में वापसी कर सकते हैं।

इससे पहले 2020 में लिएंडर पेस ने घोषणा की थी कि वो कैलेंडर वर्ष के अंत में सन्यास ले लेंगे। जहां टोक्यो ओलंपिक खेलना उनका प्राथमिक उद्देश्य था।

हालाँकि, COVID-19 ने खेल कैलेंडर को प्रभावित कर दिया और खेलों को 2021 तक स्थगित कर दिया गया, जिससे लिएंडर पेस का अंतिम और मुख्य लक्ष्य बाकी रह गया। 1996 अटलांटा ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता ने अपनी संन्यास पर पुनर्विचार किया और ओलंपिक तक खेलने का लक्ष्य रखा।

47 वर्षीय लिएंडर पेस को अभी अपने फैसले के बारे में औपचारिक घोषणा करना बाकी है, लेकिन हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि टोक्यो ओलंपिक अभी भी उनके लिस्ट में है, जिसमें वो संन्यास से पहले भाग लेना चाहते हैं।

लिएंडर ने अपने पिता वीस पेस (Vece Paes) के नाम पर कोलकाता में एक क्रिकेट टूर्नामेंट के लॉन्च इवेंट में कहा, "टोक्यो ओलंपिक पर अभी भी मेरी नजर है। आठवें ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करना मेरा लक्ष्य है।”

1992 के बाद से पिछले सात ओलंपिक में से प्रत्येक में भारत का प्रतिनिधित्व करने के बाद, लिएंडर के पास पहले से ही इतिहास में किसी भी टेनिस खिलाड़ी द्वारा सबसे अधिक ओलंपिक खेलने का रिकॉर्ड है। कनाडा के डैनियल नेस्टर (Daniel Nestor) ने छह ओलंपिक में भाग लिया है। अगर पेस टोक्यो खेलों में भाग लेते हैं, तो भारतीय दिग्गज अपने रिकॉर्ड को और मजबूत कर लेंगे।

उन्होंने कहा, "मैं कठिन अभ्यास कर रहा हूं, हर दिन तीन घंटे अभ्यास करता हूं और अपने लंबे करियर के अंतिम पड़ाव पर हूं। टोक्यो ओलंपिक भारत को रिकॉर्ड बुक में बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है।”

हालांकि, लिएंडर पेस के लिए राह कठिन होगी, जो पिछले साल से महामारी के कारण प्रतिस्पर्धा टेनिस से बाहर हैं। वो आखिरी बार मार्च 2020 में COVID के पहले क्रोएशिया के ज़र्गेब में एक आईटीएफ इवेंट में खेले थे।

लॉकडाउन के बाद टेनिस कैलेंडर को फिर से शुरू किया गया, लेकिन लिएंडर ने बायो-बबल्स वातावरण में खेलने के बारे में अपनी चिंताओं के कारण 2021 के ऑस्ट्रेलियन ओपन से बाहर बैठने का फैसला किया।

लिएंडर पेस ने कहा, “बायो-बबल्स में खेलना बहुत कठिन है और ऐसा करना खेल के लिए अच्छा नहीं हो सकता है। मुझे पिछले साल ऑस्ट्रेलियन ओपन (Australian Open) में एक शानदार विदाई मिली थी इसलिए मुझे लगा कि इस साल मैं बाहर बैठकर देखूँगा।"

लिएंडर ने संकेत दिया कि वो अगले ग्रैंड स्लैम ‘फ्रेंच ओपन’ के साथ वापसी कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, "मुझे उम्मीद है कि मई के अंत तक फ्रेंच ओपन के समय तक, यूरोप अब से बेहतर स्थिति में पहुंच जाएगा।"

दिलचस्प बात ये है कि लिएंडर पेस की 18 ग्रैंड स्लैम जीत में आखिरी बार जीत 2016 में रोलैंड गैरोस में मिली थी।