दुबई टेनिस चैंपियनशिप के मुख्य ड्रॉ में पहुंचे लिएंडर पेस 

भारतीय टेनिस स्टार लिएंडर पेस एटीपी 500 इवेंट में एक आखिरी बार खेलते हुए नज़र आएंगे। साथ ही रोहन बोपन्ना को अपने प्रतिद्वंदी को हराते हुए जगह बनाने की ज़रूरी होगी।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

अपने करियर के आखिरी पड़ाव पर खड़े लिएंडर पेस (Leander Paes) अब एटीपी 500 दुबई टेनिस चैंपियनशिप (ATP 500 Dubai Tennis Championships) में सोमवार को खेलते दिखेंगे। गौरतलब है कि पेस और उनके ऑस्ट्रलियाई जोड़ीदार मैथ्यू एब्डेन (Matthew Ebden) को वाइल्ड कार्ड के ज़रिए इस एटीपी चैंपियनशिप का हिस्सा बनाया गया है। 

ओलंपिक गेम्स में ब्रॉन्ज़ मेडल जीतने वाले पेस और उनके साथी मैथ्यू एब्डेन दूसरे नंबर की रैंक पर काबिज़ क्रोशिया के इवान डोडिग (Ivan Dodig) और स्लोवाकिया के फिलिप पोलसेक (Filip Polasek) के सामने अपने कौशल का प्रमाण पेश करते नज़र आएंगे। साल की शुरुआत में 2020 ओलंपिक गेम्स को अपनी आखिरी बड़ी प्रतियोगिता बताते हुए पेस ने खेल को अलविदा कहने के संकेत दे दिए हैं। ऐसे में हर चैंपियनशिप, हर मुकाबला उनके और उनके प्रशंसकों के लिए बेहद ख़ास रहेगा। 

अपने करियर के आखिरी पड़ाव में अभी तक पेस किसी भी खिताब को जीतने में असफल रहें हैं, फिर चाहे वह बेंगलुरु टेनिस ओपन (Bengaluru Tennis Open) हो या टाटा ओपन महाराष्ट्र Tata Open Maharashtra या फिर ऑस्ट्रलियन ओपन (Australian Open) हो।

हाल ही में हुए ऑस्ट्रेलियन ओपन के दौरान इवान और फिलिप पोलसेक ने घमासान खेल दिखाते हुए सेमीफाइनल तक का सफ़र तय किया था और अब एटीपी 500 दुबई टेनिस चैंपियनशिप में इनसे उम्दा प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है।

गल्फ न्यूज़ से बात करते हुए लिएंडर पेस ने बताया कि “दुबई में खेलना हमेशा से अच्छा रहा है, वहां मुझे बहुत से भारतीय दर्शकों का समर्थन मिला है।” पेस के करियर के आखिरी पड़ाव की बात की जाए तो वे दुबई में इस साल अपने प्रशंकों को जीत कर सुनहरे पलों का एक तोहफा ज़रूर देना चाहेंगे लेकिन उनके प्रतिद्वंदी भी उनके खेल को परख उनके सामने कड़ी चुनौतियां पेश करने की होड़ में दिखाई देंगे।रोहन बोपन्ना के लिए जीत जरूरी

रोहन बोपन्ना के लिए जीत ज़रूरी 

लिएंडर पेस की तरह एक और भारतीय टेनिस स्टार रोहन बोपन्ना (Rohan Bopanna) इस चैंपियनशिप का हिस्सा बन सकते हैं। मेंस डबल्स वर्ग में खेलते हुए बोपन्ना ने अपने साथी पाब्लो कारेनो बुस्ता (Pablo Carreno Busta) के साथ लुकास रोसोल (Lukas Rosol) और विक्टर ट्राइकी (Viktor Troicki) को 6-4, 7-5 से मात देकर अपने कारवां को आगे बढ़ाया। जीत की देहलीज़ पर चढ़ने के बाद बोपन्ना/कारेनो बुस्ता को अभी मैन ड्रॉ में अपना नाम दाखिल करने में समय है।

अगर इस जोड़ी को एटीपी 500 दुबई टेनिस चैंपियनशिप में अपनी जगह पक्की करनी है तो इस जोड़ी को हेनरी कोंटीनेन (Henri Kontinen) और जान लेनार्ड स्ट्रफ (Jan-Lennard Struff) को मात दे कर आगे बढ़ना होगा। यह मुकाबला रविवार को खेला जाएगा और हर भारतीय खेल प्रेमी को इस दिन का इंतज़ार रहेगा।

प्रजनेश गुणेश्वरन दिखाएंगे गुण

भारत के लिए अभी उम्मीदों का सिलसिला बना हुआ है और इस बार इसके ज़िम्मेदार रहे भारत के नंबर 1 टेनिस स्टार प्रजनेश गुणेश्वरन (Prajnesh Gunneswaran)। एटीपी 500 दुबई टेनिस चैंपियनशिप के मुख्य ड्रॉ में पहंचे गुणेश्वरन के प्रतिद्वंदी का चुनाव बाकी खिलाड़ियों के मुकाबलों के परिणाम पर निरभर रहेगा।

बेंगलुरु टेनिस ओपन और टाटा महाराष्ट्र ओपन की बात की जाए को भारतीय सिंगल्स के दावेदार प्रजनेश गुणेश्वरन को हार का सामना कर बहुत जल्द ही प्रतियोगिता को अलविदा कहना पड़ा था। यह कहना गलत नहीं होगा कि दो बार के एटीपी चैलेंजर विजेता के मन में जीत की ललक पल रही है और इस कारणवष उनको खेलते देखना दिलचस्प रहेगादुबई टेनिस चैंपियनशिप 2020 कहां देखेंदुबई टेनिस चैंपियनशिप का सीधा प्रसारण सोनी टीवी और सोनी लिव एप पर देखा जा सकता है।