मनिका बत्रा की हार के साथ पुर्तगाल ओपन में भारत का अभियान समाप्त

भारतीय पैडलर को लिस्बन में राउंड ऑफ 16 के मुकाबले में नीदरलैंड की ब्रिट इरलैंड से सीधे गेमों में हार का सामना करना पड़ा

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

शनिवार को आईटीटीएफ पुर्तगाल ओपन (ITTF Portugal Open) में मनिका बत्रा (Manika Batra) को राउंड ऑफ 16 में हार का समना करना पड़ा। इस मैच में भारतीय खिलाड़ी अच्छी लय में नज़र आ रही थीं। उन्होंने नीदरलैंड की ब्रिट इरलैंड (Britt Eerland) के खिलाफ अच्छा कंपोजिशन दिखाया, लेकिन अपने प्रतिद्वंदी की सर्विस को भांप नहीं पाई। डच खिलाड़ी ने लिस्बन में चल रहे इस इवेंट के क्वार्टर फाइनल में जाने से पहले भारतीय पैडलर को 11-5, 11-9, 11-4, 12-10 से मात दी।

भारत के लिए मनिका बत्रा की हार का मतलब है कि उनका अभियान आईटीटीएफ चैलेंज प्लस इवेंट में समाप्त हो गया है, क्योंकि बाकी भारतीय खिलाड़ी शुक्रवार को ही हार कर बाहर हो चुके हैं।

मनिका बत्रा वापसी वापसी के लिए जूझती दिखीं

शुक्रवार को शानदार जीत के बाद प्रतियोगिता में आगे बढ़ने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखने वाली मनिका बत्रा वैसा खेल दिखाने में नाकाम रहीं। इस मैच में वो शुरू से ही बैकफुट पर नज़र आ रही थीं।

इरलैंड ने भारतीय खिलाड़ी के ख़िलाफ़ विभिन्नता से सर्विस किया, जिसे मनिका बत्रा रिटर्न करना चाह रही थी लेकिन उनका रिटर्न टेबल से बाहर जा रहा था, उन्होंने अपनी प्रतिद्वंदी को कई अंक आसानी से दे दिए।

भारत की मनिका बत्रा शनिवार को पुर्तगाल ओपन के अपने राउंड ऑफ 16 के मुक़ाबले में लय से भटक गईं। सौजन्य: ITTF मीडिया

स्कोरबोर्ड पर पिछड़ने के कारण भी बत्रा दबाव में आ गईं और वापसी करने के लिए कुछ अप्रत्याशित गलतियां कीं। इरलैंड ने पहला गेम 11-5 से अपने नाम किया। दूसरे गेम में भी वहीं फॉर्म जारी रहा और डच खिलाड़ी ने बिना किसी समय गंवाए 9-4 की बढ़त हासिल कर ली।

हालांकि, मनिका बत्रा ने हार नहीं मानी और कई बेहतरीन रैलियां कीं और स्कोर को 10-9 पर पहुंचा दिया। इरलैंड ने पेंडुलम सर्व की जो टेबल के किनारे को चूमकर चली गई, इस सर्विस का रिटर्न करने के लिए भारतीय खिलाड़ी के पास कोई शॉट नहीं था और इस तरह डच खिलाड़ी ने मैच अपने कब्जे में कर लिया।

मनिका बत्रा का संघर्ष जारी रहा

दो-गेम की बढ़त से उत्साहित इरलैंड अपने वर्चस्व को बढ़ाने के लिए उत्सुक थीं और मनिका बत्रा ने उन्हें रोकने के लिए कुछ खास नहीं कर सकीं, उत्हास की कमी और थकावट ने बत्रा को कई गलतिया करने पर मजबूर किया जिसका मतलब था दुनिया की 47वें नंबर की खिलाड़ी की हार।

तीसरे गेम में डच पैडलर ने मुक़ाबला 11-4 से अपने नाम कर बत्रा की मुश्किलें और बढ़ा दीं। मनिका बत्रा को पुर्तगाल ओपन में अपने अभियान को जारी रखने के लिए उनके पहाड़ जैसी चढ़ाई चढ़नी थी।  

हालांकि, चौथे गेम में मनिका बत्रा ने खेल को लंबा खींचने की पूरी कोशिश की। अपने बैकहैंड से तेज़ सर्व कर इरलैंड ने भारतीय खिलाड़ी को कोई मौका नहीं दिया और क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली।