पहले भारतीय: मनप्रीत सिंह ने जीता एफ़आईएच मेंस प्लेयर ऑफ़ द ईयर का ख़िताब

भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान ने अर्थर वान डोरेन और लुकास विला को छोड़ा पीछे

भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह को इंटरनेशनल हॉकी फ़ेडरेशन ने एफ़आईएच प्लेयर ऑफ़ द ईयर 2019 के ख़िताब से नवाज़ा है। मनप्रीत के पक्ष में सभी वोटों का 35.2 फ़ीसदी गया, उन्होंने बेल्जियम के अर्थर वान डोरेन (19.7 प्रतिशत) और अर्जेंटिना के लुकास विला (11.7) को मात दी।

242 अंतर्राष्ट्रीय मुक़ाबलों में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले इस मिडफ़िल्डर ने पिछले कुछ सालों में भारत के सिर कई क़ामयाबियों का ताज पहनाया है।

पिछले कुछ सालों में भारत की सफलता में मनप्रीत सिंह का योगदान अहम रहा है। तस्वीर साभार: हॉकी इंडिया
पिछले कुछ सालों में भारत की सफलता में मनप्रीत सिंह का योगदान अहम रहा है। तस्वीर साभार: हॉकी इंडियापिछले कुछ सालों में भारत की सफलता में मनप्रीत सिंह का योगदान अहम रहा है। तस्वीर साभार: हॉकी इंडिया

मनप्रीत सिंह के नेतृत्व में ही भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स में रूस को 11-3 से शिकस्त देते हुए टोक्यो 2020 में भारत की जगह सुनिश्चित की थी।

ओलंपिक चैनल के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में मनप्रित सिंह ने कहा, ‘’अगर आप हमारे साल 2019 को देखेंगे तो हमने उन सभी प्रतियोगिताओं में अच्छा प्रदर्शन किया है जिसमें हमने शिरकत की। फिर चाहे वह एफ़आईएच मेंस सीरीज़ फ़ाइनल्स हो या फिर बेल्जियम दौरा हो जहां हमने मेज़बान और स्पेन दोनों को ही शिकस्त दी।‘’

ओलंपिक साल की शुरुआत में ही अपने पहले एफ़आईएच प्रो लीग में भी भारतीय हॉकी टीम का शानदार प्रदर्शन रहा, जो मनप्रीत सिंह की कप्तानी में ही आया। भारत ने पहले नीदरलैंड को मात दी और फिर बेल्जियम के ख़िलाफ़ भी एक मैच में जीत हासिल की।

कई बड़े नामों के बीच मनप्रीत ने मारी बाज़ी

मनप्रीत सिंह ने एफ़आईएच प्लेयर ऑफ़ द ईयर का ख़िताब अपने नाम तो किया, लेकिन उनके कई बड़े खिलाड़ी इस होड़ में शामिल थे, जिन्हें इस भारतीय मिडफ़िल्डर ने छकाते हुए अवॉर्ड अपने नाम कर लिया।

इनमें ऑस्ट्रेलिया के एडी ऑकेन्डेन और ऐरन ज़ालेस्की शामिल थे जो एफ़आईएच प्रो लीग जीतने वाले दल का भी हिस्सा थे। तो वहीं बेल्जियम के विक्टर वेगनेज़ और अर्थर वान डोरेन भी थे जो 2018 वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्य हैं। इनके अलावा इस फ़हरिस्त में अर्जेंटीना के लुकास विला भी थे जो 2019 पैन अमेरिकन गेम्स के स्वर्ण पदक विजेता दल का हिस्सा हैं।

भारतीय खिलाड़ियों के नाम और भी एफ़आईएच अवॉर्ड

मनप्रीत सिंह के इस सम्मानित ख़िताब के जीतने से पहले 2019 एफ़आईएच के कुछ और पुरस्कार भी भारतीय खिलाड़ियों के नाम रहे।

इससे पहले उन्हीं के साथी 19 वर्षीय विवेक सागर प्रसाद ने एफ़आईएच राइज़िंग स्टार ऑफ़ द ईयर (पुरुष) का ख़िताब अपने नाम किया था। मध्यप्रदेश के रहने वाले युवा मिडफ़िल्डर ने अब तक भारत का 43 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में प्रतिनिधित्व किया है। प्रसाद ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स में रूस को हराने वाली भारतीय टीम का भी हिस्सा थे।

भारतीय महिला हॉकी टीम की युवा सनसनी लालरेमसियामी ने भी एफ़आईएच राइंज़िंग स्टार ऑफ़ द ईयर (महिला) पर कब्ज़ा जमाया। 19 वर्षीय भारतीय महिला स्ट्राइकर 2018 यूथ ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाली भारतीय महिला टीम की सदस्य थीं।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!