मनु भाकर और सौरभ चौधरी पहली एशियाई ऑनलाइन शूटिंग चैम्पियनशिप में भाग लेने के लिए हैं तैयार  

प्रतियोगिता की प्रत्येक श्रेणी में भाग लेंगे तीन शीर्ष शूटर

लेखक दिनेश चंद शर्मा ·

नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (NRAI)के सचिव राजीव भाटिया के अनुसार, टोक्यो 2020 में पदक की उम्मीद मनु भाकर और सौरभ चौधरी को ऑनलाइन एशियन शूटिंग चैम्पियनशिप के उद्घाटन संस्करण में प्रतिस्पर्धा करने वाले शीर्ष भारतीय निशानेबाजों में शामिल किया गया है। जो 29 और 30 जनवरी को पूरे महाद्वीप में आयोजित की जाएगी।

उन्होंने खुलासा किया कि प्रतियोगिता स्कीट, एयर राइफल और पिस्टल तीन श्रेणियों में होगी। इसमें भाग लेने वाले हर देश को प्रत्येक श्रेणी में तीन निशानेबाजों को शामिल करने की अनुमति होगी। वर्तमान में नई दिल्ली में डॉ. कर्णी सिंह रेंज में चल रहे चयन ट्रायल में अच्छा प्रदर्शन करने वाले निशानेबाज चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे।  

भाटिया ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि, "प्रत्येक इवेंट में शीर्ष तीन निशानेबाजों को भाग लेने का मौका दिया जाएगा।" अंगद बाजवा और मैराज खान ने पुरुषों की स्कीट स्पर्धा में स्थान पक्का कर लिया है। जबकि अपूर्वी चंदेला और अंजुम मौदगिल, महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी। दीपक कुमार और दिव्यांश सिंह पंवार पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल में प्रतिस्पर्धा करेंगे।

सर्वश्रेष्ठ शूटर सौरभ चौधरी और अभिषेक वर्मा ने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में अपनी जगह बनाई है। जबकि ISSF विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतने वाली सबसे कम उम्र की भारतीय शूटर भाकर, यशस्विनी सिंह के साथ महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में भाग लेंगी।

ISSF वर्ल्ड कप फाइनल में 10 मीटर एयर पिस्टल खिताब जीतने के बाद मनु भाकर

यह वर्चुअल इवेंट पहली आधिकारिक प्रतियोगिता होगी। क्योंकि कोरोना वायरस महामारी के कारण 2020 में कई आयोजन रद्द करने पड़े थे। भारतीय निशानेबाजों ने आखिरी बार 2019 एशियाई शूटिंग चैम्पियनशिप में भाग लिया था।

भारत ने उस चैम्पियनशिप में 26 पदक जीते, जिसमें पांच स्वर्ण, 10 रजत और 11 कांस्य पदक शामिल थे।

मिश्रित टीम स्पर्धा में भाकर और अभिषेक वर्मा, 50 मीटर राइफल प्रोन टीम इवेंट में मौदगिल और काजल सैनी, 25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल टीम में उदयवीर सिद्धू, विजयवीर सिद्धू और गुरप्रीत सिंह और स्कीट में बाजवा ने स्वर्ण पदक जीता। भाकर ने दो स्वर्ण पदक अपने नाम किये थे, क्योंकि उन्होंने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा भी जीती। 

NRAI, ओलंपिक से पहले निशानेबाजों को प्रतिस्पर्धी करने का मौका देने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। भारत शॉटगन विश्व कप में भी भाग लेने के लिए तैयार है, जो 22 फरवरी से 3 मार्च तक मिस्र के काहिरा में आयोजित होने वाला है। भारत 18 से 29 मार्च तक ISSF विश्व कप की मेजबानी करेगा।