बार्सिलोना टेनिस के युगल वर्ग में एन श्रीराम बालाजी को सेमी-फाइनल में मिली हार

भारतीय टेनिस स्टार और उनके स्विस जोड़ीदार ने बार्सिलोना चैलेंजर में स्कोर 1-1 से बराबर किया लेकिन अंत में जीत का स्वाद चखने से चूक गए।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

भारतीय टेनिस खिलाड़ी एन श्रीराम बालाजी (N Sriram Balaji) और उनके स्विस जोड़ीदार लुका मार्गोली (Luca Margarol) को सेंचेज-कैसल मैप फ्री कप ATP चैलेंजर 80 टेनिस टूर्नामेंट में हार को स्वीकारना पड़ा।

इंडो-स्विस युगल जोड़ी का सामना प्रतियोगिता के तीसरी सीड की जोड़ी के साथ हुआ और यह मुकाबला खेल प्रेमियों के लिए यादगार बन गया। इस मुकाबले में भारतीय खिलाड़ी और उनके जोड़ीदार को USA के एलेक्स लॉसन (Alex Lawson) और फिनलैंड के हैरी हेलियोवारा (Harri Heliovaara) के खिलाफ 7-5, 6(8)-7(10), 10-7 से हार का सामना करना पड़ा। हालांकि बालाजी/मार्गोली यह सेमी-फाइनल तो हार गए, लेकिन दिल जीतने में उन्होंने कोई कमी नहीं छोड़ी।

बालाजी/मार्गोली पहली ही गेम में अपने प्रतिद्वंदियों की सर्विस को तोड़ने पर उतारू थे लेकिन हेलियोवारा/लॉसन दो ब्रेक प्वाइंट हासिल कर पलड़ा बदल दिया। इस वजह से भारतीय/स्विस जोड़ी के हाथ बढ़त आते आते रह गई।

छठी गेम में बालाजी और उनके जोड़ीदार से कुछ गलतियां देखने को मिलीं और साथ ही इसका असर उनकी सर्विस की धार पर भी पड़ा। ऐसे में हेलियोवारा/लॉसन सर्विस तोड़कर खुद को सेट में कहीं आगे पहुंचा दिया।

भारतीय टेनिस खिलाड़ी एन श्रीराम बालाजी को बार्सिलोना चैलेंजर के युगल वर्ग में खेलते हुए हार का सामना करना पड़ा। तस्वीर साभार: इन्स्टाग्राम/एन श्रीराम बालाजी

अब अंक 5-2 से भारतीय खिलाड़ी के विपक्ष में था और उन्हें इस मुकाबले में वापसी करने की बेहद ज़रूरत थी। जोश और तकनीक का इस्तेमाल करते हुए बालाजी/मार्गोली ने अगली तीन गेमों को अपने नाम किया और अंक को 5-5 से बराबर रखा।

पहले सेट के अंत में हेलियोवारा/लॉसन को एक और ब्रेक पॉइंट मिला और 12वीं गेम्स में उन्होंने इस लय को बरकरार रखते हुए भारतीय टेनिस खिलाड़ी और उनके जोड़ीदार की सर्विस भी तोड़ दी। इसके के बाद पहला सेट हेलियोवारा/लॉसन के हक में 7-5 से गया।

दूसरे सेट में बालाजी और उनके साथी ने आक्रामक रवैया अपनाया लेकिन उनके प्रतिद्वंदी भी मानो कोर्ट पर पूरी तैयारी कर के आए थे। खेल अपने चरम पर था और विजेता का अंदाजा लगाना मुश्किल था और देखते ही देखते हेलियोवारा/लॉसन ने 5 ब्रेक पॉइंट अपनी झोली में कर सेट पर कब्ज़ा कर लिया।

प्लेऑफ में हेलियोवारा/लॉसन ने 5-0 की बढ़त अपने हाथ में की और खेल को अपने हिसाब से चलाने लगे। भारतीय/स्विस जोड़ी ने घमासान वापसी कर स्कोर को 5-5 से बराबर कर दिया और दिखा दिया कि वह भी तैयारी के साथ आए हैं। इस बार जीत भारतीय टेनिस खिलाड़ी के हाथ आयो और उन्होंने इस सेट को 10-8 से अपने नाम किया।

अब बारी थी अंतिम सेट की और हेलियोवारा/लॉसन ने बेहतर खेल दिखाया और इसे अपने नाम कर मुकाबले पर अपने नाम की मुहर लगा दी। हालांकि एन श्रीराम बालाजी और उनके जोड़ीदार ने मुकाबले तो गंवा दिया, लेकिन दिल जीतने में कोई कसर नहीं छोड़ी।