कोरोना वायरस के कारण भारत में होने वाले नेशनल गेम्स अनिश्चित समय के लिए स्थगित

कोरोना वायरस के कारण खेलों की तैयारी नहीं हो पाई रही है इसलिए आयोजन समिति इसे अब टोक्यो ओलंपिक के बाद करवाने की सोच रही है।

इस साल गोवा में होने वाले नेशनल गेम्स को अनिश्चित समय के लिए टाल दिया गया है। नेशनल गेम्स की आयोजन समिति ने इसकी घोषणा की।

पहले आयोजक उम्मीद कर रहे थे कि गेम्स का आयोजन 20 अक्टूबर से 4 नवंबर तक किया जाएगा लेकिन कोरोना महामारी के कारण सभी प्लान चौपट हो गए।

 गोवा के उप मुख्यमंत्री मनोहर (बाबू) अजगांवकर, जो खेल पोर्टफोलियो भी रखते हैं उन्होंने भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा का स्टेटमेंट के आधार पर कहा कि "राष्ट्रीय खेल आयोजन समिति ने कोविड-19 महामारी के कारण राष्ट्रीय खेलों को स्थगित करने का फैसला किया है।"

इसके अलावा बयान में कहा गया है कि राष्ट्रीय खेलों की तारीख़े तय करने और इसे आयोजित करने के लिए चार महीने की अग्रिम सूचना देने के लिए सितंबर के अंत में एक बैठक आयोजित की जाएगी।

राष्ट्रीय खेलों की नई तारीख़ पर अब सितंबर के अंत में होने वाली बैठक में फ़ैसला लिया जाएगा।
राष्ट्रीय खेलों की नई तारीख़ पर अब सितंबर के अंत में होने वाली बैठक में फ़ैसला लिया जाएगा।राष्ट्रीय खेलों की नई तारीख़ पर अब सितंबर के अंत में होने वाली बैठक में फ़ैसला लिया जाएगा।

टोक्यो 2020 के बाद नेशनल गेम्स

इस महामारी के कारण ओलंपिक को भी एक साल के लिए टाल दिया गया है। आयोजकों को डर है कि टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों की वजह से कई बड़े एथलीट्स नेशनल गेम्स से दूरी बना सकते हैं।

इस सब के बीच IOA ने कहा है कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करना प्राथमिकता नहीं है और एथलीटों के स्वास्थ्य और सुरक्षा से समझौता नहीं किया जा सकता।

हालांकि आयोजन समिति को उम्मीद है कि सितंबर में होने वाली मीटिंग के दौरान कुछ फैसले लिए जा सकते हैं। गेम्स का 2021 सीज़न के अंत में आयोजित होने की अफ़वाह है।

नेशनल गेम्स आखिरी बार साल 2015 में केरल में आयोजित किए गए थे। नेशनल गेम्स कई प्रतिभाशाली एथलीटों के लिए एक राष्ट्रीय स्तर पर अपनी गुणवत्ता और काबिलियत दिखाने का एक मंच रहा है, जो अक्सर उनके करियर के लिए एक स्प्रिंगबोर्ड साबित हुआ है।

साल 2015 के सीजन में साजन प्रकाश (Sajan Prakash) (तैराकी), अरोकिया राजीव (Arokia Rajeev) (400 मीटर), जी लक्ष्मणन (G Lakshmanan) (5000 मीटर, 10000 मीटर) और रेनजिथ महेश्वरी (Renjith Maheswary) (ट्रिपल जंप) सहित कई अन्य एथलीट्स अच्छा प्रदर्शन कर नेशनल टीम में जगह बनाने में कामयाब रहे।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!