नेशनल जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिपः शाहरुख खान, दीपिका ने किया रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन 

अपर्णा रॉय ने 13.20 सेकंड के समय के साथ बनाया अंडर-20 में 100 मीटर बाधा दौड़ का नेशनल मीट रिकॉर्ड 

लेखक दिनेश चंद शर्मा ·

गुवाहाटी के सरूसजाई स्टेडियम में आयोजित 36वीं राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप के अंतिम दिन बुधवार को कई कीर्तिमान गढ़े गए। अंडर-16 वर्ग में शाहरुख खान (Shahrukh Khan) ने बालकों की 2000 मीटर जीतकर और दीपिका (Deepika) ने 45 मीटर के रिकॉर्ड से आगे 48.21 मीटर पर भाला फेंककर नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड कायम किया।

खान ने प्रतियोगिता को जीतने के लिए 5:27:87 सेकेंड का समय लिया। उन्होंने इस समय के साथ उनके आयु वर्ग में वर्ष 2016 में विकास (5:31:87) द्वारा बनाये राष्ट्रीय रिकॉर्ड को तोड़ा।अभिन भास्कर देवडिगा (Abhin Bhaskar Devadiga) और एंसी सोजन (Ancy Sojan) ने क्रमशः पुरुषों और महिलाओं के 200 मीटर का खिताब जीता। देवडिगा ने 21.34 सेकंड में दौड़ खत्म की और एक महीने के भीतर दूसरा खिताब अपने नाम किया। उन्होंने भोपाल में हुई फेडरेशन कप जूनियर अंडर-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भी स्वर्ण पदक जीता था। वहीं, सोजन नेतरनजीत कौर (Taranjeet Kaur) को पछाड़ते हुए 24.51 सेकंड में अपना स्प्रिंट पूरा किया। हालांकि, ट्रिपल जंपर प्रवीण चित्रावल (Praveen Chithravel ने खिताब जीता, लेकिन 16.01 के स्कोर तक नहीं पहुंच पाये, जो उन्होंने एक पखवाड़े पहले जूनियर फेड कप में बनाया था। अपने छह प्रयासों में से दो में वह 14 मीटर के निशान से आगे नहीं बढ़ सका। उसे अपनी लय को पाने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा था। हालांकि, श्रेणी में प्रतिस्पर्धा की कमी के कारण वह शीर्ष स्थान पर रहे।

अंडर-18 1500 मीटर में अर्जुन वास्कले (Arjun Waskale) ने 3:50:38 समय के साथ मीट रिकॉर्ड बनाते हुए खिताब जीता और साथ ही पहले 2016 में शंकर द्वारा 3:53:63 समय के साथ बनाये रिकॉर्ड को भी तोड़ा।

प्रतिभाशाली युवा एथलीट अपर्णा रॉय (Aparna Roy) ने अंडर-20, 100 मीटर बाधा दौड़ में 13.85 सेकंड के समय के साथ स्वर्ण पदक पर कब्जा किया। उन्होंने 2019 में कर्नाटक के मंगलगिरी में 14:00 सेकंड के समय के साथ बनाये अपने ही राष्ट्रीय मीट रिकॉर्ड को भी तोड़ा।

वह केरल स्टेट स्पोर्ट्स काउंसिल में सर्वश्रेष्ठ कोच पीबी जयकुमार (PB Jaikumar) के अधीन अभ्यास कर रही हैं। हालांकि, वह भविष्य में बेहतर परिणाम के लिए उनके कोच द्वारा सुझाये हेप्टाथलॉन इवेंट में भाग लेना चाहती हैं।

जयकुमार ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, "अपर्णा हेप्टाथलॉन के लिए उपयुक्त है। केवल बाधा दौड़ और 100 मीटर दौड़ में ध्यान केंद्रित करने के बजाय उसे हेप्टा पर ध्यान देना चाहिए। उसे जम्प इवेंट में ज्यादा प्रयास करने चाहिए, विशेष रूप से हाई जम्प में। यहां उसने लंबी कूद स्पर्धा में भाग लिया और शानदार प्रदर्शन करते हुए चौथे स्थान पर रही। यह अच्छा संकेत है ।"