ओलंपिक क्वालिफायर के मुक्केबाज़ी ट्रायल के लिए निकहत ज़रीन का हुआ चयन

ओलिंपिक क्वालिफायर ट्रायल में युवा मुक्केबाज़ निकहत ज़रीन का सामना ज्योति गुलिया से जबकि मैरी कॉम का सामना ऋतु से होगा।

लेखक रितेश जायसवाल ·

निकहत ज़रीन को लेकर चल रहीं सभी अटकलों पर शनिवार को उस वक्त विराम लग गया जब बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (बीएफआई) ने उन भारतीय मुक्केबाज़ों के नामों की घोषणा की जो 27 दिसंबर को दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में ओलंपिक क्वालिफायर टूर्नामेंट के लिए दो दिवसीय ट्रायल में हिस्सा लेंगी।

चयन समिति की हुई बैठक के बाद तेलंगाना की निकहत को 51 किलोग्राम वर्ग भार में चौथा स्थान दिया गया। इसी वर्ग भार में छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरी कॉम, रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (आरएसपीबी) की ज्योति गुलिया और हरियाणा की ऋतु ग्रेवाल भी शामिल हैं।

मैरी कॉम को पहली रैंकिंग जबकि निकहत को दूसरी रैंकिंग दी गई है। ज्योति और ऋतु को क्रमश: तीसरी और चौथी रैंकिंग दी गई।

तय हुए मुकाबले

भारतीय मुक्केबाज़ी महासंघ के अनुसार पहली रैंकिंग और चौथी रैंकिंग की मुक्केबाज़ आपस में तथा दूसरी और तीसरी रैंकिंग की मुक्केबाज़ एक-दूसरे से भिड़ेंगी। इस तरह से निकहत का सामना ज्योति से जबकि मैरी कॉम का सामना ऋतु से होगा। दोनों मैच की विजेता फाइनल ट्रायल मुकाबले में पहुंचेंगी।

बीएफआई के द्वारा जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, “प्रत्येक मुकाबले की विजेता फाइनल ट्रायल मैच में पहुंचेगी और पांच वर्गों में जीतने वाली मुक्केबाज़ को 3 से 14 फरवरी 2020 में वुहान में एशिया और ओसनिया के ओलंपिक क्वालिफायर में भाग लेने वाली भारतीय टीम में चुना जाएगा”। ट्रायल 51 किलोग्राम के अलावा 57 किलोग्राम, 60 किलोग्राम, 69 किलोग्राम और 75 किलोग्राम वर्ग में भी कराया जाएगा।

महिलाओं वर्ग के मुकाबले

57 किग्रा वर्ग में, आरएसपीबी टीम की साथी सोनिया विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता सोनिया लाथेर से भिड़ेंगी और हरियाणवी मुक्केबाज़ साक्षी और मनीषा के बीच मुकाबला होगा।

60 किग्रा में, ऑल इंडिया पुलिस की एल सरिता देवी हरियाणा की शशि चोपड़ा से भिड़ेंगी, जबकि पंजाब की सिमरनजीत कौर आरएसपीबी की पवित्रा के साथ मुकाबला करेंगी।

69 किग्रा में, दिल्ली की अंजलि दो बार की विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता असम की लवलीना बोरगोहाइन से भिड़ेंगी और राजस्थान की ललिता आरएसपीबी की मीना रानी के खिलाफ रिंग में उतरेंगी।

अंत में 75 किग्रा वर्ग में, केरल की इंद्रजा केए एशियाई खेलों की कांस्य पदक विजेता पूजा रानी से दो-दो हाथ करेगीं और विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता सवाई भूरिया साथी हरियाणवी नूपुर के खिलाफ रिंग में उतरेंगी।

पुरुषों वर्ग के मुकाबले

पुरुषों के बीच 57 किग्रा वर्ग में, 2019 एशियाई एमेच्योर मुक्केबाज़ी चैंपियनशिप में रजत पदक विजेता कविंदर सिंह बिष्ट का सामना 2018 राष्ट्रमंडल खेलों (सीडब्ल्यूजी) के स्वर्ण पदक विजेता गौरव सोलंकी से होगा। इसके अलावा वर्ग श्रेणी में 2018 सीडब्ल्यूजी कांस्य पदक विजेता एमडी हुसामुद्दीन और सचिन भी होंगे।

75 किग्रा में हिमाचल प्रदेश के आशीष कुमार हरियाणा के अंकित खटाना से भिड़ेंगे।

81 किग्रा वर्ग में राजस्थान के बृजेश यादव को नाम दिया गया है, साथ में सेवा खेल नियंत्रण बोर्ड (एसएससीबी) के सचिन कुमार और सुमित सांगवान हैं। हालांकि, ट्रायल में सांगवान का प्रवेश नाडा द्वारा डोपिंग आरोपों को मंजूरी देने पर निर्भर करेगा।

91 किग्रा में, आरएसपीबी के नमन तंवर एसएससीबी के गौरव चौहान से भिड़ेंगे, जबकि एसएससीबी के साथी सतीश कुअर और नरेन्द्र आपस में मुकाबला करेंगे।