ओलंपिक टेस्ट इवेंट में भारत ने जीते दो गोल्ड

भारत के स्टार मुक्केबाज़ शिव थापा और पूजा रानी ने अपने-अपने वर्ग भार में गोल्ड मेडल हासिल किया।

लेखक रितेश जायसवाल ·

भारतीय बॉक्सर शिव थापा और पूजा रानी ने गुरुवार को टोक्यो में ‘रेडी स्टेडी गो’ ओलंपिक टेस्ट इवेंट में गोल्ड मेडल जीता। वहीं तीसरे बॉक्सर आशीष को सिल्वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा। उन्हें 69 किलोग्राम भार वर्ग में जापान के सेवोन ओकाजावा ने हराया।

अन्य मुक्केबाज़ों को मिला ब्रॉन्ज़

चार बार के एशियन मेडल विजेता शिव ने 63 किलोग्राम भार वर्ग में कजाकिस्तान के राष्ट्रीय चैंपियन और एशियन ब्रॉन्ज़ मेडल विजेता सानटाली टोलकायेव को 5-0 से करारी शिकस्त दी।

आपको बता दें कि शिव वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज़ मेडल जीत चुके हैं। दूसरी ओर, पूर्व एशियन गेम्स ब्रॉन्ज़ मेडल विजेता पूजा ने ऑस्ट्रेलिया की कैटलिन पार्कर को हराया। उन्होंने इस साल एशियन चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल भी अपने नाम किया था।

इससे पहले टूर्नामेंट में पूर्व जूनियर वर्ल्ड चैंपियन निखत जरीन ने 51 किलोग्राम और सिमरनजीत कौर ने 60 किलोग्राम भार वर्ग में ब्रॉन्ज़ मेडल अपने नाम किया था। पुरुषों में वहलिंपुइया 75 किलोग्राम और एशियन सिल्वर मेडल विजेता सुमित सांगवान ने 91 किलोग्राम भार वर्ग में ब्रॉन्ज़ मेडल जीता था।

जानें क्या होगा आगे?

भारत के पुरुष और महिला दोनों ही मुक्केबाज़ों ने AIBA वर्ल्ड मुक्केबाज़ी चैंपियनशिप में सफल प्रदर्शन करने के कुछ ही समय बाद एक और वैश्विक प्रतियोगिता में लगातार सफलता हासिल की है।

खिलाड़ियो का यह दल अब स्वदेश लौटेगा और अगले साल फरवरी के पहले सप्ताह में चीन के वुहान में आयोजित होने वाले एशिया-ओशिनिया ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में अपनी जगह बनाएगा। इस आयोजन के लिए राष्ट्रीय ट्रायल जनवरी 2020 में होने वाले हैं।