2020 टाटा ओपन महाराष्ट्र पर होगीं बेनोइट पेरे की नज़रें 

इवो कार्लोविच और फिलिप कोह्ल्श्राइबर भी एटीपी इवेंट में दम ख़म दिखाते हुए दिखेंगे और साथ ही लिएंडर पेस भी अपना हुनर दिखा सकते हैं।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

भारत की ज़मीन पर देखते ही देखते हर खेल बड़ा होता जा रहा है। वह चाहे कबड्डी हो या बैडमिंटन या फिर लॉन टेनिस, हर खेल में खिलाड़ी दम ख़म दिखाते हुए दिखाई देते है। 2020 टाटा ओपन महाराष्ट्र भारतीय सरज़मी पर होने वाला है और इसमें कई बड़े नाम भी शामिल होंगे। फ्राबेनोइट पेरे भारत में 2020 टाटा ओपन महाराष्ट्र में हिस्सा लेते नज़र आएंगे। इतना ही नहीं पिछली बार फाइनल में कदम रखने वाले इवो कार्लोवि भी कोर्ट को फतह करने दोबारा उतरेंगे। इस एटीपी टूर्नामेंट में फिलिप कोह्ल्श्राइबर भी अपना डेब्यू करेंगे।

पिछले संस्करण के विजेता केविन एंडरसन इस बार टाटा ओपन 2020 में भाग नहीं लेंगे तो इस वजह से इस बार टेनिस की दुनिया को एक नया विजेता मिलेगा।

एटीपी टूर का 25वां साल

स्क्रोल.इन से बात करते हुए टूर्नामेंट डायरेक्टर प्रशांत सुतार ने बताया कि “यह एक अहम संस्करण है क्योंकि इस बार एटीपी का 25वां साल है और इस वजह से सभी खिलाड़ी ज़्यादा उत्सुक हैं। यह प्रतियोगिता एक ऐतिहासिक प्रतियोगिता मानी जाती है और इस बार सिल्वर जुबली के अवसर पर दर्शकों को टेनिस की कड़ी दावेदारी देखने को मिलेगी। इस प्रतियोगिता का स्तर ऊचां होता जा रहा है और हम इस वजह से बेहद खुश हैं।”

हम आपको बता दें कि हर साल जनवरी में होने वाला यह एटीपी 250 इवेंट इस साल फरवरी में खेला जाएगा। टेनिस प्रेमियों के लिए यह सीज़न ख़ास होने वाला है क्योंकि इस प्रतियोगिता से पहले ऑस्ट्रेलियन ओपन का लुत्फ़ भी उठा सकेंगे।

टाटा ओपन महाराष्ट्र में थॉमस फाबियानो, जिरी वेस्ली और साउथ कोरिया के उभरते हुए खिलाड़ी सूनवू क्वोन भी हिस्सा लेते नज़र आएंगे।

कोर्ट पर अपना दम दिखाना चाहेंगे भारतीय खिलाड़ी

एक बार अगर भारतीय फेहरिस्त पर भी नज़र डालें तो 27 वर्षीय युकी भाभ्री अपनी वापसी करते दिखेंगे। घुटने की चोट की वजह से भाभ्री खेल से तकरीबन एक साल दूर रहे हैं और टाटा ओपन 2020 उनके लिए वापसी का एक सुनेहरा मौका होसकता है।

इनके अलावा भारतीय स्टार सुमित नागल भी अपना हुनर दिखाते नज़र आएंगे। इतना ही नहीं, रामकुमार रामनाथन और प्रजनेश गुन्नेस्वरण भी कोर्ट पर अपने खेल का मुज़ाहिरा पेश करते हुए दिखाई दे सकते हैं। इन सभी नामों के बीच भारत के सर्वश्रेष लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना भी अपने कौशल की बाज़ी लगाने के लिए शामिल हो सकते हैं।