परमा ATP चैलेंजर के क्वार्टर-फ़ाइनल में थम गया प्रजनेश गुणेश्वरन का सफ़र

भारतीय टेनिस खिलाड़ी और उनके साथी कामिल मजक्रज़क इटली के क्ले कोर्ट टूर्नामेंट के युगल क्वार्टर फाइनल में सीधे सेटों में हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गए।

लेखक रितेश जायसवाल ·

भारत के प्रजनेश गुणेश्वन (Prajnesh Gunneswaran) और उनके पोलिश साथी कामिल मजक्रज़क (Kamil Majchrzak) गुरुवार को इटली के परमा में चल रहे एटीपी 125 चैलेंजर के युगल क्वार्टर फाइनल में हारकर बाहर हो गए। इंडो-पोलिश की जोड़ी उरुग्वे के एरियल बेहार (Ariel Behar) और इक्वाडोर के गोंजालो एस्कोबार (Gonzalo Escobar) की जोड़ी से सीधे सेटों में 6-6, 6-1 से हार गई।

पिछले महीने फ्रेंच ओपन क्वालीफायर के दूसरे दौर में पहुंचने वाले प्रजनेश गुणेश्वरन इटली में चल रहे इस टूर्नामेंट से बाहर होने वाले दूसरे भारतीय रहे। इससे पहले सुमित नागल राउंड ऑफ-16 की एकल प्रतियोगिता से बाहर हो चुके थे।

युगल क्वार्टर फाइनल में शुरुआती दौर में दक्षिण अमेरिकी जोड़ी अच्छी लय में नज़र आ रही थी, क्योंकि उन्होंने पहले सेट के पहले गेम में मजक्रज़क की सर्विस को ब्रेक करने के बाद ही 2-0 की बढ़त बना ली।

गुणेश्वरन ने तीसरे गेम में कुछ आक्रामक सर्विस से करारा जवाब देने की कोशिश की और इंडो-पोलिश जोड़ी ने अपने प्रतिद्वंद्वियों को अगले ही गेम में पीछे छोड़ते हुए सेट को 2-2 से बराबर कर लिया।

प्रजनेश गुणेश्वरन एटीपी 125 चैलेंजर परमा के युगल क्वार्टर फाइनल में हार गए।

हालांकि वापसी बहुत आसान नहीं थी, क्योंकि बेहार और एस्कोबार ने फिर से पांचवें गेम में मजक्रज़ाक की सर्विस को ब्रेक कर दिया और अपनी अगली तीनों सर्विस को जीतते हुए सेट को 6-4 से जीत लिया। 

दूसरा सेट भी पहले के जैसा ही शुरू हुआ, जिसमें उरुग्वेयन-इक्वाडोरियन जोड़ी ने पहले गेम में गुणेश्वरन की सर्विस को ब्रेक कर दिया।

गुणेश्वरन-मज़क्रज़ाक ने तीसरे गेम में अपनी सर्विस जीती, लेकिन वह इंडो-पोलिश युगल जोड़ी के लिए आखिरी जीत साबित हुई। उसके बाद दक्षिण अमेरिकी जोड़ी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 6-1 के अंतर से दूसरा सेट अपने नाम कर लिया।