भारतीय शटलर पीवी सिंधु इंग्लैंड में ट्रेनिंग के साथ अपने तरकश में और तीर जोड़ रही हैं

भारतीय बैडमिंटन स्टार ब्रिटिश शटलर टोबी पेंटी और राजीव ओसेफ के साथ ट्रेनिंग कर रही हैं और खेल की कुछ और बारीकियों को सीख रही हैं।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

जनवरी में कोर्ट पर दोबारा उतरने से पहले भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु (PV Sindhu) यूनाइटेड किंगडम में अपने बैडमिंटन के ज्ञान को बढ़ावा दे रही हैं।

अक्टूबर से ही सिंधु इंग्लैंड के गेटोरेड स्पोर्ट्स साइंस इंस्टिट्यूट (Gatorade Sports Science Institute – GSSI) में अपनी फिटनेस और पोषण को माप रही हैं। साथ ही वह ब्रिटिश शटलर टोबी पेंटी (Toby Penty) और राजीव ओसेफ (Rajiv Ouseph) के साथ नेशनल ट्रेनिंग सेंटर में अभ्यास भी कर रही हैं।

पीवी सिंधु ने इस विषय पर बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (Badminton World Federation – BWF) से कहा “यहां एक अलग ही भाव है। यहां अलग-अलग जगह हैं ट्रेनिंग करने के लिए, यह कुछ नया है और मैं नई नई चीज़ें सीख रही हूं। हर खिलाड़ी के खेलने का तरीका अलग है। सबकी सोच अलग है और मैं अलग कोच और अलग खिलाड़ियों से सलाह लेती हूं।”

“एक खिलाड़ी कहेगा कि मेरा डिफ़ेंस कमज़ोर है और राज (राजीव ओसेफ) कहेगा कि अच्छा, चलो अब आपको यह यह कार्य करने हैं। ऐसे में उनके दृष्टिकोण के साथ जाना फायदेमंद है।”

ग़ौरतलब है कि राजीव ओसेफ खेल से संन्यास ले चुके हैं और टोबी पेंटी ने आखिरी बार डेनमार्क ओपन में शिरकत की थी ओर उन्हें भारतीय शटलर किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) के खिलाफ पहले राउंड में हार का सामना करना पड़ा था।

वहीं पीवी सिंधु ने अपना आख़िरी मुकाबला मार्च के महीने में ऑल इंग्लैंड ओपन प्रतियोगिता में खेला था। वर्ल्ड चैंपियन अक्टूबर में होने वाले उबेर कप में भाग लेने के लिए तैयार थीं तो इस प्रतियोगिता को रद्द कर दिया गया था और उसके बाद उन्होंने कोरोना वायरस (COVID-19) की ही वजह से डेनमार्क ओपन से अपना नाम वापस ले लिया था।

रियो 2016 सिल्वर मेडल विजेता ने इंग्लैंड जा कर अपनी फिटनेस पर मेहनत करने की साझी।

इसी विषय पर उन्होंने आगे कहा “मैं अपनी ट्रेनिंग नहीं रोकना चाहती थी। बैडमिंटन जनवरी में दोबारा से शुरू हो रहा है। उम्मीद है कि तब तक सब सही हो जाएगा और जब तक मैं इंग्लैंड में हूं तब तक मैं अपनी ट्रेनिंग जारी रखूंगी।”

भारतीय बैडमिंटन स्टार की नज़र अब BWF वर्ल्ड टूर के एशियन लेग पर है जो जनवरी से शुरू होने जा रहा है। इस प्रतियोगिता में सुपर 1000 इवेंट खेले जाएंगे और उनमें से एक हैं थाईलैंड ओपन जो कि 12 जनवरी से खेला जाएगा और दूसरे की शुरुआत 19 जनवरी से होगी। इसके बाद 2020 BWF वर्ल्ड टूर फाइनल को भी आयोजित किया जाएगा। तीनों प्रतियोगिताओं बैंकॉक में खेलीं जाएँगीं।

पीवी सिंधु ने आगे कहा “ट्रेनिंग और अभ्यास के बाद में अपना 100 प्रतिशत महसूस कर रही हूं। मेरे पास अपने स्ट्रोक्स और फिटनेस के स्तर को बढ़ाने के लिए लगातार दो बड़े इवेंट हैं।”

“मैं ब्रेक की वजह से शारीरिक और मानसिक तौर से मज़बूत महसूस कर रही हूं। मैं फिट हूं और थाईलैंड ओपन के लिए उत्सुक भी हूं।”