पीवी सिंधु और कंपनी को टोक्यो 2020 से पहले मिला नया कोच

इंडोनेशिया के अगस दिवी सेंटोसो होंगे भारतीय बैडमिंटन के नए कोच, सिंगल्स खिलाड़ियों को देंगे कोचिंग

लेखक सैयद हुसैन ·

पीवी सिंधु (PV Sindhu) को फ़ॉर्म में वापस लाने के साथ ही साथ टोक्यो 2020 के लिए में साइना नेहवाल (Saina Nehwal) और किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) को सही दिशा दिखाने के लिए भारतीय बैडमिंटन का नया कोच इंडोनेशिया के आगुस ड्वी सेंटोसो (Agus Dwi Santoso) को बनाया गया है।

बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ़ थाईलैंड के साथ क़रार ख़त्म होने के बाद भारत के चीफ़ नेशनल बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद लगातार इस इंडोनेशियाई कोच के साथ बातचीत कर रहे थे, जिसके बाद आख़िरकार सनतोसो ने कोच पद स्वीकार किया। ख़बरों के मुताबिक़ सनतोसो को इसके एवज़ में 8,000 अमेरिकी डॉलर ($ 8,000) प्रति माह दिए जाएंगे और वह मार्च के दूसरे सप्ताह तक भारत के साथ बतौर कोच जुड़ जाएंगे।

2020 ओलंपिक में भारत के प्रदर्शन के आधार पर उनका क़रार आगे भी बढ़ाया जा सकता है, अगर सबकुछ ठीक रहा तो उन्हें पेरिस 2024 तक टीम के साथ जोड़े जाने की उम्मीद है।

अहम समय पर सनतोसो का साथ

इंडोनेशियाई कोच का क़रार भारत के साथ ऐसे समय पर हो रहा है, जब पीवी सिंधु का करियर ग्राफ़ ढलान पर जा रहा है। पिछले साल अगस्त में वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने के बाद से ही इस वर्ल्ड नंबर-6 की झोली में कोई ख़िताब नहीं गया है। इतना ही नहीं सिंधु ने वर्ल्ड चैंपियन बनने के बाद खेले 13 टूर्नामेंट में से सिर्फ़ एक में ही फ़ाइनल तक पहुंच पाईं हैं।

ऐसा माना जा रहा है कि सिंधु के ख़राब फ़ॉर्म के पीछे की वजह उनकी कोच दक्षिण कोरिया की किम जी ह्यून (Kim Ji Hyun) का छोड़कर जाना है। किम अपने बीमार पति की वजह से क़रार ख़त्म कर लौट गईं हैं। उनकी कोचिंग में ही रियो 2016 की रजत पदक विजेता सिंधु को बासेल में वर्ल्ड चैंपियन का ख़िताब मिला था।

अगस्त 2019 में वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने के बाद से पी वी सिंधु का फ़ॉर्म लगातार गिर रहा है

अब जब टोक्यो 2020 में पांच महीने से भी कम का समय बचा है, तो बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया (BAI) और स्पोर्ट्स ऑथोरिटी ऑफ़ इंडिया (SAI) ने एकल मुक़ाबलों के विशेषज्ञ कोच सनतोसो के साथ क़रार किया है।

सनतोसो को नियुक्त किए जाने की आधिकारिक पुष्टि अजय कुमार सिंघानिया ने किया जो BAI के मुख्य सचिव हैं।

कौन हैं अगस दिवी सेंटोसो ?

एक जाने माने कोच जिनकी कोचिंग में ही इंडोनेशिया के हेंड्रावन (Hendrawan) ने 1998 बैंगॉक एशियाड में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। और 2000 सिडनी ओलंपिक में रजत पदक भी जीता और 2001 सेवील वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी रजत पदक पर कब्ज़ा किया था।

इसके बाद सनतोसो की कोचिंग में ही बुडी सेंटोसो (Budi Santoso) ऑल इंग्लैंड ओपन 2002 के फ़ाइनल में पहुंचे थे, और फिर बुसानन ओंगबमरुंगफन (Busanan Ongbamrungphan) को जकार्ता एशियाड में कांस्य पदक दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी।

सनतोसो की कोचिंग में ही दक्षिण कोरियाई शटलर सोन वान-हो (Son Wan-ho) 2017 में पुरुष एकल की वर्ल्ड रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे थे।

दिसंबर 2018 से फ़रवरी 2020 के बीच सनतोसो थाईलैंड के सिंगल्स कोच रहे, इसी दौरान थाईलैंड के पुरुष शटलर कैंटाफ़ोन वैंगशैरोएन (Kantaphon Wangcharoen) वर्ल्ड चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले पहले थाई शटलर बने थे।