हॉकी

साल 2020 की शुरुआत भारतीय हॉकी वूमेंस टीम के लिए शानदार

रानी रामपाल ने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ जीत को बुना और 4-0 से मुकाबला अपने हक में किया। 

लेखक जतिन ऋषि राज ·

यह साल ओलंपिक गेम्स का साल है और हर टीम, हर खिलाड़ी इसे अपना सबसे सुनेहरा साल बनाना चाहता है। भारतीय वूमेंस हॉकी टीम की ने भी इसी को ध्यान में रखते हुए साल 2020 की शुरुआत शानदार तरीके से की। न्यूज़ीलैंड को 4-0 से हराकर भारतीय महिला हॉकी टीम ने अपने मनोबल को एक अच्छी उड़ान प्रदान की।

कप्तान रानी रामपाल इस मुकाबले की नायक रहीं। रामपाल शानदार खेल दिखाते हुए 2 गोल दागे और शर्मिला देवी, नमिता टोप्पो ने एक-एक गोलल दाग भारतीय खेमे को और मज़बूत किया। भारतीय महिला टीम न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेलने के बाद ओलंपिक गेम्स की विजेता ग्रेट ब्रिटेन के खिलाफ भी खेलेगी।

रानी ने किया राज 

मुकाबला शुरू होने पर भारतीय हॉकी टीम के खिलाड़ों को शुरू में अपनी लय को ढूंढना पड़ रहा था। हालांकि रानी के तीसरे क्वार्टर में गोल करने की वजह से पूरी टीम को हिम्मत मिली और हाथ में आई लय को भारतीय महिलाओं ने जाने नहीं दिया।

भारत ने मुकाबला तो जीता ही और सबसे बड़ी बात ये रही कि इस टीम ने यह मुकाबला ओलंपिक गेम्स 2020 को ध्यान में रकहते हुए जीता। रानी रामपाल समेत हर खिलाड़ी ने अपना पूरा योगदान दिया और जीत को मुठ्ठी में कर लिया। हाफ़ टाइम के हूटर बजने से पहले शर्मिला देवी ने भी अपनी कला दिखाते हुए गोल दागा और भारत को खेल में कोसो आगे ले गईं।

रानी ने कमान संभालते हुए स्कोर को 3-0 किया और आखिरी हूटर से पहले नमिता ने हर उलझन को ख़त्म करते हुए गोल दागा और जीत को अपने प्रतिद्वंदियों से चुरा लिया। 

कोच  शोर्ड मारिन की टिप्पणी 

मुकाबले के बाद हॉकी इंडिया से बात करते हुए कोच  शोर्ड मारिन ने कहा “हालांकि शुरुआत में हम थोड़ी मुश्किलों का सामना कर रहे थे, लेकिन उसके बाद हमने सटीक खेल दिखाया और अपने लिए बहुत से मौके भी बनाए।”आखिरी दो क्वार्टर में न्यूज़ीलैंड ने दबाव डालने की कोशिश की लेकिन हम लोग अपनी रणनीति पर ही कायम रहे।”

कोच ने यह भी ज़ाहिर किया कि यह सभी मुकाबले टोक्यो 2020 की तैयारी के लिए होंगे। “आज हम 16 खिलाड़ियों के साथ खेले, ठीक जैसा ओलंपिक में होता है। हम हर मुकाबले में खिलाड़ियों में बदलाव लाएंगे और देखेंगे की कौन दबाव में कैसा खेल दिखाता है।” 

कोच ने आगे कहा “आज हमने बहुत सी नई चीज़ें की लेकिन अभी सुधार करना बाकी है। हम यहां हैं और हम ज़रूर खेल के स्तर को बढ़ाएंगे।”

भारतीय वूमेंस हॉकी टीम का अगला पड़ाव 

भारतीय वूमेंस हॉकी टीम का अगला मुकाबला न्यूज़ीलैंड के खिलाफ़ सोमवार, 27 जनवरी को खेला जाएगा।