FICCI ने रानी और सौरभ को स्पोर्ट्स पर्सन ऑफ़ द ईयर अवार्ड से नवाज़ा

भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और पिस्टल शूटर सौरभ चौधरी को इस सीज़न में शानदार प्रदर्शन के लिए फ़िक्की ने स्पोर्ट्स पर्सन ऑफ़ द ईयर से किया सम्मानित।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

FICCI पुरस्कार के 9वें संस्करण में भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और 2018 एशियन गेम्स के 10 मीटर एयर पिस्टल में स्वर्ण पदक विजेता रहे शूटर सौरभ चौधरी को उनके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए स्पोर्ट्स पर्सन ऑफ़ द ईयर अवार्ड से नवाज़ा।

पिछले साल ये पुरस्कार भारत के स्टार जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा को मिला था, जबकि धावक हिमा दास और हेपटाथेलीट स्वपना बर्मन को ब्रेकथ्रू स्पोर्ट्स पर्सन ऑफ़ द ईयर के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

रानी रामपाल ने दूसरों के लिए पेश किया उदाहरण

भारतीय महिला टीम को एक उदाहरण की तरह जिस खिलाड़ी ने नेतृत्व किया है उसका नाम है रानी रामपाल, ये साल रानी के लिए सर्वश्रेष्ठ रहा है। जब भी टीम को उनकी ज़रूरत रही वह टीम के लिए संकटमोचक बन कर सामने आईं। फिर चाहे हिरोशामा में खेला गया एफ़आईएच सीरीज़ फ़ाइनल्स या फिर पिछले महीने यूएसए के ख़िलाफ़ एफ़आईएच ओलंपिक हॉकी क्वालिफ़ायर हो, हर बार रानी रामपाल की बेहतरीन कप्तानी में टीम को क़ामयाबी हासिल हुई।

एक तरफ़ भारत की कई युवा खिलाड़ियों ने भी अंतर्राष्ट्रीय मंच पर शानदार प्रदर्शन किया है। जिनमें सुशिला चानू, सविता पूनिया, गुरजीत कौर और लालरेमसियामी शामिल हैं, इन सभी को निखारने में भी रानी रामपाल की अहमियत काफ़ी है। इन सबको साथ लेकर रानी 2020 टोक्योओलंपिक के लिए एक बेहतरीन टीम तैयार कर रही हैं।

सौरभ चौधरी की सनसनी

सौरभ चौधरी, 2015 में यानी सिर्फ़ चार साल पहले इस खिलाड़ी ने शूटिंग में हाथ आज़माना शुरू किया था, लेकिन ये सीज़न सौरभ के लिए शानदार रहा और उन्होंने क़ामयाबी की कई इबारत लिखी। सौरभ, भारत के लिए 2018 एशियन गेम्स में गोल्ड जीतने वाले सबसे कम उम्र के शूटर हैं। चौधरी ने इसी साल अपने इस प्रदर्शन को और भी बेहतर तब किया जब मनु भाकर के साथ मिलकर उन्होंने देश के लिए सभी आईएसएसएफ़ वर्ल्ड कप के मिश्रित पिस्टल इवेंट में स्वर्ण पदक हासिल किया।

अगले साल होने वाले टोक्यो 2020 ओलंपिक के लिए भी सौरभ चौधरी ने कोटा हासिल कर लिया है, लिहाज़ा इस युवा शूटर से देश को काफ़ी उम्मीदें हैं।