वर्ल्ड गेम्स अवॉर्ड जीतने के बाद रानी रामपाल ने हॉकी जगत का किया शुक्रिया

भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल ने वर्ल्ड गेम्स एथलीट ऑफ़ द ईयर का पुरस्कार हॉकी जगत को समर्पित किया

लेखक सैयद हुसैन ·

वर्ल्ड गेम्स एथलीट ऑफ़ द ईयर का अवॉर्ड जीतने के अगले दिन ही अपने इस ख़िताब को भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल ने हॉकी जगत को समर्पित किया। रानी इस वक़्त न्यूज़ीलैंड दौरे पर टीम के साथ हैं, जहां उन्होंने कहा कि बिना हॉकी जगत और फ़ैन्स के इस अवॉर्ड को जीत पाना मेरे लिए मुमकिन नहीं था।

‘’मैं ये अवॉर्ड संपूर्ण हॉकी जगत, मेरे देश और मेरी टीम को समर्पित करना चाहूंगी। ये क़ामयाबी बिना हॉकी फ़ैन्स, मेरी टीम, कोच, हॉकी इंडिया, सरकार और मेरे कुछ बॉलीवुड के दोस्तों के मुमकिन नहीं थी। इन सभी ने लगातार मेरे लिए वोट किया और दूसरों को भी प्रेरित किया।“ रानी ने ये बातें न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के साथ बात करते हुए कही।

रानी रामपाल को विजेता एक ऑनलाइन पोल के बाद किया गया था। भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान के साथ साथ 25 और प्रतिस्पर्धी इस अवॉर्ड की दौड़ में थे, जो अलग अलग खेल से जुड़े हुए थे और उन्हें इंटरनेश्नल फ़ेडरेशन ने नामित किया था। इस फ़हरिस्त में ब्राज़िल बीच हैंडबॉल टीम के खिलाड़ी, स्लोवानिया के स्पोर्ट क्लाइंबर जांजा गर्नब्रेट और कोलंबियाई आर्चर सारा लोपेज़ जैसी दिग्गज शख़्सियत भी शामिल थीं।

25 वर्षीय रानी ने अपने नाम का प्रस्ताव दिए जाने के लिए इंटरनेश्नल हॉकी फ़ेडरेशन (FIH) का भी आभार व्यक्त किया। ‘’FIH को भी बहुत बहुत धन्यवाद जिन्होंने इस सम्मानित पुरस्कार के लिए मेरे नाम का प्रस्ताव रखा। साथ ही साथ वर्ल्ड गेम्स फ़ेडरेशन को भी मुझे ये अवॉर्ड देने के लिए बहुत बहुत शुक्रिया।‘’

‘’मुझे ये अवॉर्ड जीतकर सम्मान और गर्व महसूस हो रहा है। हमेशा अच्छा लगता है जब आपका देश आपके खेल और उसमें की गई मेहनत को पहचानता है। उन सभी लोगों का बहुत बहुत शुक्रिया जिन्होंने मुझे वोट दिए।‘’ : रानी रामपाल, कप्तान, भारतीय महिला टीम

2019 सीज़न रानी रामपाल और उनकी टीम के लिए बेहतरीन रहा था, जहां उन्होंने लगातार दूसरी बार भारतीय महिला टीम को ओलंपिक के लिए क्वालिफ़ाई कराने में अहम योगदान दिया था। अब रानी की नज़र साल 2020 को और भी यादगार बनाने पर है।

‘’2019 मेरे लिए और मेरी टीम के लिए एक शानदार साल था, जब हमने टोक्यो 2020 के लिए भी क्वालिफ़ाई किया था। मैं चाहूंगी कि साल 2020 अब उससे भी बेहतरीन हो।“ :रानी रामपाल, कप्तान, भारतीय महिला टीम