IFA शील्ड में ख़िताबी जीत के बाद रियल कश्मीर एफ़सी की आई-लीग 2021 पर है नज़र

रियल कश्मीर एफ़सी आइएफए शील्ड 2020 जीतने के बाद आने वाले साल में एक आई-लीग ट्रॉफी में अपनी विजयरथ को बरकरार रखना चाहती हैं।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

रियल कश्मीर एफसी (Real Kashmir FC) के स्कॉटिश हेड कोच डेविड रॉबर्टसन (David Robertson) का मानना ​​है कि इस साल की शुरुआत में उनकी टीम की IFA शील्ड 2020 में ख़िताबी जीत उत्साह बढ़ाने का काम कर सकती है जो उन्हें बेहतर प्रदर्शन और आई-लीग 2021 का खिताब जीतने में मदद करेगी।

भारतीय फुटबॉल में शीर्ष स्तर पर खेलने वाली कश्मीर घाटी की ये टीम पहले ही भारतीय खेलों में एक प्रेरणादायक कहानी लिख चुकी है। टीम ने हाल ही में प्रतिष्ठित IFA शील्ड जीतकर अपनी पहली बड़ी घरेलू सफलता हासिल की।

येलो ब्रिगेड की अगली चुनौती आई-लीग होगी, जो 9 जनवरी, 2021 से कोलकाता में शुरू हो रही है।

कोच रॉबर्टसन ने एक मीडिया कॉंफ़्रेंस के दौरान कहा, “IFA शील्ड जीतकर प्रतियोगिता का सफर खत्म करना बहुत अच्छा रहा। पीली जर्सी और बैज में निश्चित रूप से वो कमाल का प्रदर्शन कर रहे हैं, और उनके इस प्रदर्शन से पता चलता है कि हम इस साल फिर से एक अच्छी टीम के रूप में जाएंगे।”

उन्होंने कहा, 'हमने आई-लीग में चुनौती को ध्यान में रखते हुए एक अच्छी टीम बना ली है। हम दो साल से यहां हैं और जानते हैं कि ये सब कैसे होता है। हर साल, हम अधिक ध्यान केंद्रित करते हैं और इस बार हम फेवरेट हैं।”

2017-18 में आई- लीग डिविज़न 2 जीतने के बाद रियल कश्मीर आई-लीग में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम साबित हुई है। 2018-19 संस्करण में वो दूसरे और 2019-20 में चौथे स्थान पर रहे थे।

कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी के कारण आई-लीग 2019-20 के सीजन को छोटा किया गया था, जहां रियल कश्मीर के पास दूसरे स्थान पर मौजूद ईस्ट बंगाल और तीसरे स्थान पर मौजूद मिनर्वा पंजाब एफसी से एक मैच कम खेलने के बावजूद सिर्फ एक अंक कम था।

रॉबर्टसन ने कहा कि आने वाले सीज़न में रियल कश्मीर के फैंस खिताबी जीत का जश्न मना सकते हैं।

“क्लब में माहौल अब तक का सबसे अच्छा है। हम पहले स्थान हासिल करने के लिए सारी चुनौतियों से लड़ने के लिए तैयार होना चाहेंगे और ये एक अच्छी शुरुआत पर निर्भर करेगा।”

उन्होंने कहा, “इस साल हमने अधिक अनुभवी खिलाड़ियों को टीम के साथ जोड़ा है और हमारी टीम में ऐसे लोग हैं जो गोल भी कर सकते हैं। मुझे हमेशा लगता है कि खेल में डिफेंस सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है और अगर आप अच्छी तरह से डिफेंस करते हैं तो आप आधा मैच उसी समय जीत लेते हैं। हमने IFA शील्ड के सफर में भी कई गोल किए और ये देखकर बहुत अच्छा लगता है।”

कहने की जरूरत नहीं है कि रियल कश्मीर के खिताबी जीत इसलिए भी आसान लग रही है, क्योंकि कोलकाता के दो दिग्गज टीमें - ईस्ट बंगाल (East Bengal) और मोहन बागान (Mohun Bagan) - इंडियन सुपर लीग (Indian Super League) में चली गई हैं।

रियल कश्मीर एफसी 10 जनवरी 2021 को कोलकाता के किशोर भारती कृणांगन में मणिपुर की ट्रॉ एफ़सी (TRAU FC) के खिलाफ अपने आई- लीग अभियान की शुरुआत करेगी। पूरा टूर्नामेंट COVID के खिलाफ एहतियात के तौर पर बायो-बबल में खेला जाएगा।