भारत के सभी राष्ट्रीय खेल महासंघ के लिए खुशखबरी, अब उठा सकेंगे SAI की फ्री सुविधाओं का लाभ

इस पहल का उद्देश्य महासंघों को अधिक आयोजनों की मेजबानी करने के लिए प्रोत्साहित करना है और भारत के एथलीटों को अधिक सुविधाएं प्रदान करना है।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

भारत के राष्ट्रीय खेल महासंघ (India’s National Sports Federations) के बोझ को कम करने के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण (Sports Authority of India) ने एक बड़ी घोषणा की है। वह अब राष्ट्रीय खेल महासंघ के लिए अपनी सुविधाएं मुफ्त में देगा। इससे राष्ट्रीय खेल महासंघ को न सिर्फ किराए में छूट मिलेगी बल्कि इसमें राष्ट्रीय या अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों के आयोजन के दौरान होने वाले किसी भी अतिरिक्त चीजों का बोझ भी भारतीय खेल प्राधिकरण ही झेलेगा। वहीं, भारतीय खेल प्राधिकरण पहले ही ऐलान कर चुका है कि वह 14 खेलों में 23 नए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस केन्द्र बनाएगा।

वहीं, भारत सरकार के खेल मंत्री किरन रिजिजू (Indian sports minister Kiren Rijju) को इस पहल से उम्मीद है कि इससे महासंघ को और अधिक आयोजनों की मेजबानी करने और देश के एथलीटों को अधिक मौका मिलेगा। किरन रिजिजू ने टाइम्स ऑफ इंडिया (TOI) से इस बारे में बातचीत की और कहा, "हम उन इवेंट्स की मेजबानी करने के लिए बहुत उत्सुक हैं, जहां अलग-अलग देशों के एथलीट भारत में प्रतिस्पर्धा करेंगे, ताकि हमारे एथलीटों को अपनी खुद की खेल योग्यता हासिल करने का मौका मिले"।

एथलीटों को मिल सकेगी बेहतर सुविधाएं

वहीं, भारतीय खेल प्राधिकरण के निदेशक संदीप प्रधान (Sandeep Pradhan) ने कहा, "हम अपने एथलीटों को ट्रेनिंग के लिए विदेश भेजते हैं, जिसके लिए हम फंड देते हैं। जबकि हम उन्हें अपने देश में समान्य वातावरण में वो सुविधाएं प्रदान नहीं करते हैं।" आगे बात करते हुए संदीप ने कहा, "कुछ फेडरेशन को छोड़कर, कई खेल निकाय को भारतीय खेल प्राधिकरण को किराए पर लेना मुश्किल रहता है क्योंकि उनमें अन्य अतिरिक्त शुल्क रहते हैं। इसलिए सुविधाएं कम मिल पाती हैं।"

NRAI को मिलेगा पहला लाभ

इस पहल से शुरुआत में नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (NRAI) को लाभ मिलेगा, जो मई और जून में होने ISSF विश्व कप में होगा। इस दौरान किराए और बिजली शुल्क में लगभग 50 लाख रुपए की बचत होगी। इसके अलावा नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ इंडिया को ऑन-प्रीमियर रिटेल स्टॉल के किराए के लिए 44 लाख रुपए की छूट मिलेगी।

वहीं, नेशनल राइफल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के महासचिव राजीव भाटिया (NRAI secretary general Rajiv Bhatia) ने इस पहल का स्वागत किया है। इसके साथ ही उन्होंने आईएएनएस (IANS) से बात करते हुए कहा, "विश्व कप हो या (राष्ट्रीय) ट्रायल, हम सभी के लिए किराए और अतिरिक्त शुल्क के लिए समान राशि खर्च करते थे। अब इससे हमें और अन्य फेडरेशन को काफी मदद मिलेगी, इसके साथ ही अब बेहतर तरीके से टूर्नामेंट का आयोजन हो सकेगा।"

वहीं, किरन रिजिजू ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के लगातार बढ़ रहे मामले पर चिंता जाहिर की और कहा, "हमें इस समय यह सुनिश्चित करना होगा कि हमारे लिए वित्तीय अनुमान से ज्यादा स्वास्थ्य का मुद्दा ज्यादा महत्वपूर्ण है। इसके साथ ही हम सभी के लिए स्वास्थ्य का मुद्दा सबसे पहले है और यह एक चिंता का विषय भी है।"