ज्यादा से ज्यादा लड़कियों को आगे निकलकर इस स्तर पर खेलने की ज़रूरत है: सानिया मिर्ज़ा

हाल ही में कोर्ट पर लौटीं पूर्व डबल्स विश्व नंबर एक खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा भारतीय टेनिस टीम को फेड कप के प्लेऑफ में स्थान दिलाने में मदद कर रही हैं, लेकिन चाहती हैं कि अधिक से अधिक महिलाएं इस स्तर पर खेलें।

15 से अधिक वर्षों से अपने देश में खेल के लिए मशाल-वाहक रहीं भारतीय टेनिस दिग्गज़ सानिया मिर्ज़ा (Sania Mirza) चाहती हैं कि अधिक से अधिक लड़किया उच्च स्तर पर प्रतिस्पर्धा करें और देश के लिए खेलें।

सानिया मिर्जा ने फेड कप की आधिकारिक वेबसाइट पर दुबई में चल रहे टूर्नामेंट के बारे में बताया, उन्होंने कहा कि "हमारे पास अंकिता (रैना) है जो इस स्तर पर खेल रही है, लेकिन मुझे लगता है कि दूसरी लड़कियां उससे कम स्तर पर हैं।" "हमें इस टीम में कम से कम 10 और लड़कियों को शामिल करनी चाहिए, जो एक-दूसरे के बहुत करीब हैं।"

पूर्व जूनियर विंबलडन (Wimbledon) चैंपियन और डबल्स में छह बार की ग्रैंड स्लैम विजेता ने अच्छे खिलाड़ियों की पहचान करने और फिर उस प्रतिभा को अच्छी ट्रेनिंग देने के लिए एक बेहतर संरचना की मांग की। उनका मानना है कि देश में प्रतिभा की कमी नहीं है।

"मुझे विश्वास है कि हमारे पास बहुत प्रतिभावान खिलाड़ी हैं - बहुत अधिक खिलाड़ी आगे बढ़ रहे हैं और शीर्ष 100 या शीर्ष 150 या डबल्स में हैं, लेकिन महिलाओं में ये थोड़ा दुर्लभ है, ये बहुत बड़ी खाईं है।

सानिया मिर्जा ने कहा, "मेरा मतलब है कि मैं 2003 से खेल रही हूं और हम 2020 में हैं और हम अभी भी किसी भारतीय खिलाड़ी से दुनिया में शीर्ष 50 में आने का इंतजार कर रहे हैं।"

अंतर के बारे में बताते हुए 33 वर्षीय ने भारत में एक बेहतर प्रणाली के तहत खिलाड़ियों को तैयार करने की मांग की, जो उच्च स्तर पर प्रतिस्पर्धा कर सकें। "इस प्रणाली को नियमित रूप से हमें लागू करने की आवश्यकता है ताकि हम चैंपियन बनाने में सक्षम हो सकें, अन्यथा दुर्भाग्य से हर 20-25 साल में ऐसे ही होने वाला है।"

लड़कियों को आगे लाने के लिए सानिया मिर्ज़ा ने एक बेहतर प्रणाली की मांग की है
लड़कियों को आगे लाने के लिए सानिया मिर्ज़ा ने एक बेहतर प्रणाली की मांग की हैलड़कियों को आगे लाने के लिए सानिया मिर्ज़ा ने एक बेहतर प्रणाली की मांग की है

भारतीय टेनिस टीम ने फेड कप में दूसरा स्थान हासिल करने का लक्ष्य रखा है

2016 के बाद से भारतीय टेनिस टीम के लिए फेड कप में पहली बार शामिल होने वाली सानिया मिर्ज़ा ने भारत को दक्षिण कोरिया और चीनी ताइपे के खिलाफ अपने शानदार प्रदर्शन से जीत हासिल करने में मदद की, और भारत को दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया है, जो एशिया/ओशियिना क्वालिफायर ग्रुप 1 में सिर्फ चीन से पीछे है।

अगले महीने फेड कप प्लेऑफ के लिए ग्रुप से शीर्ष दो टीमों को क्वालिफाई करने का मौका मिलेगा और इसलिए भारतीय टेनिस टीम मजबूत स्थिति में है और सानिया मिर्जा ऐसा चुनौती के लिए हमेशा तैयार हैं।

“मुझे लगता है कि ताइपे और चीन शायद फेवरेट हैं। लेकिन अगर हम एक सिंगल मैच जीतने में सक्षम हो जाते हैं, तो जाहिर है कि मैं खेल में बनी रहुंगी और रुख थोड़ा बदल जाएगा। उन्होंने ये भी कहा कि, कहा जाता है कि अभी भी कोई गारंटी नहीं है क्योंकि आप अभी भी ऐसे लोगों के खिलाफ खेल रहे हैं जो वास्तव में बहुत अच्छे हैं।“

भारतीय टेनिस टीम फेड कप ग्रुप 1 की अंक तालिका में अपनी स्थिति को मजबूत करने की कोशिश कर रही है, जहां आज वो इंडोनेशिया से भिड़ने के लिए तैयार है।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!