कैसे सानिया मिर्ज़ा और उनके क्रिकेटर पति शोएब मलिक का रिश्ता है मज़बूत

अनुशासन, समझ और एडजस्टमेंट ने इस भारत-पाकिस्तान की जोड़ी को विवाहित जीवन की चुनौतियों से उबरने में मदद की और ये दोनों उच्चतम स्तर पर खेलते रहे

एक टेनिस खिलाड़ी हैं तो दूसरे मशहूर क्रिकेटर, एक हिंदुस्तान से तो दूसरे का तालुल्क पाकिस्तान से है। दोनों ही खिलाड़ी खेल की दुनिया में अपना नाम कमा चुके हैं, जिसके लिए उन्हें लंबा सफर भी तय करनी पड़ी है, अब ये दोनों एक सफल माता-पिता भी हैं। 

हम बात कर रहे हैं भारत की टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा (Sania Mirza) की, जिन्होंने साल 2010 में पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक (Shoaib Malik) से शादी की। समय बीतने के साथ ही इन दोनों का रिश्ता और मजबूत होता गया।

सानिया मिर्ज़ा का मानना है कि खेल में सीखे गए अनुशासन के कारण जिंदगी की चुनौतियों को पार करना आसान हो गया।

अपने पति शोएब मलिक के साथ इंस्टा लाइव के दौरान उन्होंने कहा कि “क्रिकेट की तरह ही टेनिस में अनुशासन की बहुत आवश्यकता होती है, आपको छोटी-छोटी बातों पर फोकस करना होता है।”

सानिया ने कहा कि “जब हम दोनों ने शादी करने का फैसला किया तो मैं कलाई की चोट से जूझ रही थी और सच कहूं तो मैंने उस टाइम सोच लिया था कि अब शायद ही मैं कभी टेनिस खेल पाऊं।”

भारतीय स्टार ने कहा कि 6 महीने के ब्रेक के बाद मैंने विंबलडन से कमबैक किया और तब मुझे महसूस हुआ कि कुछ भी नहीं बदला है। मुझे लगता है कि आपका सपोर्ट मुझे काफी मिला क्योंकि आप भी खिलाड़ी ही हो और हम दोनों ही काफी मेहनत करते हैं।“

सानिया ने बताया कि आपने शादी के बाद मुझे कभी जिम्मेदारियों में नहीं बांधा, आपने कभी नहीं कहा कि मैं अपने खेल को ज्यादा समय नहीं दूं, इसलिए मुझे लगता है कि ज्यादा बदलाव नहीं आया है।

मिर्ज़ा -मलिक एक सफल साझेदारी

इसमें कोई शक नहीं है कि एक दूसरे को समझना ही सफल शादी का मूलमंत्र होता है और इन दोनों के केस में भी यही हुआ। अलग अलग देशों से होने और ज्यादातर समय एक दूसरे से दूर रहने के बाद भी ये जोड़ी दूसरों के लिए मिसाल है।

सानिया मिर्ज़ा ने इसका कारण बताते हुए कहा कि यह व्यक्तिगत तौर पर निर्भर करता है, इसके अलावा आपका रिश्ता, आपकी आपसी समझ कैसी है, इस पर भी निर्भर है। हमें पहले से पता था कि अगर हमें अपने रिश्ते को जारी रखना है, तो इसमें बहुत से अलग-अलग रास्तों से गुजरना होगा।

स्टार टेनिस खिलाड़ी ने आगे बताया कि “हम इसे किसी अन्य तरीके से नहीं जानते, हम सौभाग्यशाली हैं कि हमने एक-दूसरे को पाया और एक दूसरे के जीवन और प्रोफेशन को समझने से पहले हमने शादी कर ली और एक दूसरे के खिलाफ एडजस्ट कर लिया।”

इस कपल ने साल 2018 में बेटे ईज़हान को जन्म दिया और इसके बाद इसी साल कोरोना महामारी से पहले उन्होंने कोर्ट पर वापसी की।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!