ओलंपिक की मेजबानी के लिए तैयार है टोक्यो : साथियान गणानाशेखरन

नवंबर से जापान की राजधानी में रह रहे भारतीय स्टार साथियान गणानाशेखरन ने ये देख लिया है कि कैसे ओलंपिक सिटी कोरोना की चुनौती का सामना कर रहा है।

लेखक लक्ष्य शर्मा ·

भारतीय टेबल टेनिस (Table Tennis) स्टार साथियान गणानाशेखरन (Sathiyan Gnanasekaran) को पूरा भरोसा है कि टोक्यो कोरोना की चुनौती का सामना करते हुए 2021 में होने वाले ओलंपिक की मेजबानी के लिए पूरी तरह से तैयार है।

जापान में नवंबर से ओकायामा रिवेट्स के लिए टी-लीग में हिस्सा ले रहे दुनिया के नंबर 37 एकल खिलाड़ी ने गौर से ओलंपिक के मेजबान शहर को देखा है।

साथियान ने ईएसपीएन से बातचीत में बताया कि “मेरे लिए टोक्यो तैयार है। ओलंपिक के पोस्टर हर कहीं देखे जा सकते हैं और जापान सरकार ओलंपिक को सफल बनाने के लिए बहुत कुछ कर रही है।”

साथियान ने हाल ही में यूरोप में भी ट्रेवल किया है और पोलिश लीग में खेलने के लिए उन्होंने पोलेंड में कुछ समय भी बिताया है। इन सभी को देखने के बाद भारतीय स्टार को लगता है कि मौजूदा स्थिति ही में जापान, ओलंपिक की मेजबानी के लिए सर्वश्रेष्ठ जगह है।

भारतीय टीटी स्टार ने कहा कि “अगर हम यूरोप और वेस्ट की तुलना करें तो इस समय जापान इस समय ओलंपिक की मेजबानी के लिए बेस्ट है। गुरुवार 17 दिसंबर को टोक्यो में 822 कोरोना केस आए थे लेकिन इसके बावजूद ओवरऑल स्थिति काबू में है।”

इसके साथ ही 27 साल के इस खिलाड़ी को पूरी उम्मीद है कि वह रैंकिंग के आधार पर अपने भारतीय जोड़ीदार शरत कमल (Sharath Kamal) के साथ ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर लेंगे। टोक्यो ओलंपिक के स्थगित होने से पहले साथियान अच्छी फॉर्म में थे।

चेन्नई के इस खिलाड़ी ने 6 महीने पहले ही ओलंपिक पर फोकस करना शुरू कर दिया है। अपने टी लीग ब्रेक के दिनों में, साथियान ओडाइबा मरीन पार्क वॉटर एरिया में गए, जहां हाल ही में ओलंपिक प्रतीक को फिर से स्थापित किया गया था।

साथियान ने बताया कि “ओलंपिक की पांच रिंग को रोशन किया हुआ था और जिसके बैकग्राउंड में रेनबो ब्रिज दिख रहा था। उस समय एक अजनबी ने उस दृश्य के साथ मेरी तस्वीर खींची। मेरे लिए यह एक अद्भुत और स्पेशल पल था, मेरा ओलंपिक सपना जैसे मेरे सामने आकर खड़ा हो गया हो और मुझे पक्का विश्वास है कि मैं इसके लिए जो कर सकता हूं, वो जरूर करूंगा।”

इसके अलावा उन्होंने कहा कि “इस कठिन साल का अंत ऐसी जगह करना सुखद है और मैं 6 महीने बाद यहां फिर आना चाहता हूं।”

प्रमुख फोटो: साथियान गणानाशेखरन/ ट्वीटर