मनिका बत्रा की वापसी, दिया प्रतिद्वंदी को करार जवाब

एक साला के ब्रेक के बाद भारतीय महिला टेनिस खिलाड़ियों ने नेशनल मीट में अच्छा खेल दिखाया और स्टार पैडलर मनिका बत्रा ने 4-1 से पानी जीत दर्ज की।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

82वें नेशनल टेबल टेनिस चैंपियनशिप (Senior National Table Tennis Championships) में भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा (Manika Batra) ने वुमेंस सिंगल्स में खलते हुए जीत दर्ज की। यह मुकाबला मंगलवार को खेला गया था।

पंचकुला, ताऊ देवी लाल इनडोर स्टेडियम में ऊपरी रैंक के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अपने नाम की लाज रख ली और खिताब जीतने के एक कदम नज़दीक भी आ गए।

टॉप सीड की पैडलर मनिका बत्रा पेट्रोलियम स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड की ओर से खेल रही थीं और उन्होंने काजोल रामजली (Kajol Ramjali) को पस्त किया। आंध्रा की काजोल के खिलाफ मनिका ने 4-1 से जीत हासिल की और वहीं हरियाणा की सुतीर्था मुखर्जी (Sutirtha Mukherjee) ने ख़ुशी जैन (Kushi Jain) को 4-0 से रौंदा।

वहीं दूसरी ओर कर्नाटक की अर्चना कामथ (Archana Kamath) से स्वास्तिका घोष (Swastika Ghosh) ने कड़े सवाल पूछे लेकिन अंततः जीत अर्चना की झोली में ही आई। जहां अर्चना कामथ ने 4-2 से मुकाबले को जीतते हुए अपने कारवां को आगे बढ़ाया तो वहीं दिया चिताले ने विद्या नरसिम्हन (Vidya Narasimhan) को 4-0 से मात दी।

लंबे समय के बार प्रतिस्पर्धा कर रही 2018 कॉमनवेल्थ में गोल्ड मेडल जीतने वाली मनिका अपने ओपनिंग मुकाबले में सब्र के साथ खेलती दिखी और उनकी प्रतिद्वंदी ज़्यादा कुछ कर न सकी।

अपने पहले राउंड में अर्चना कामथ को भी जूझते हुए देखा गया। स्वस्तिका घोष के खिलाफ इस युवा पैडलर ने ख़राब शुरुआत की और ओपनिंग गेम को 15-13 से गंवा दिया।

दूसरी गेम में अर्चना ने वापसी करते हुए कुछ अच्छे शॉट्स दिखाए और राउंड को अपने नाम कर लिया। तीसरी गेम भी अर्चना की रही लेकिन उनकी प्रतिद्वंदी ने चौथे गेम में हल्ला बोल दिया। हालांकि 13-15, 12-10, 11-9, 4-11, 13-11, 11-5 के सको से अर्चना ने अपनी जीत दर्ज तो कर ली लेकिन अभी लंबा सफ़र तय करना बाकी है।

वहीं डिफेंडिंग चैंपियन सुतीर्था मुखर्जी को ज़्यादा मुशक्कत नहीं करनी पड़ी और उन्होंने मुकाबले को 11-5, 11-3, 11-8, 11-7 से अ[ने नाम कर लिया। यह जीत मध्य प्रदेश की ख़ुशी जैन के खिलाफ आई।