ओलंपिक गेम्स के स्थगित होने के कारण SAI बढ़ाएगा विदेशी कोचों का कॉन्ट्रैक्ट

SAI विदेशी कोचों का करार बढ़ा सकता है और इस कारणवश गुरु शिष्य को ज़्यादा समय बिताने का मौका मिलेगा। 

लेखक सतीश त्रिपाठी ·

विदेशी कोच भारतीय खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दे रहे हैं, लेकिन इनका करार केवल ओलंपिक तक था तो वहीं, भारतीय कुश्ती महासंघ के सचिव वी एन प्रसूद, हॉकी इंडिया के सीईओ एलेना नॉर्मन सहित अन्य लोगों को उम्मीद है कि विदेशी कोचों के अनुबंध को जल्द बढ़ाया जाएगा। टोक्यो 2020 स्थगित होने के बाद विदेशी कोचों के अनुबंध का विस्तार करेगा भारत।

टोक्यो गेम्स स्थगित होने के बाद विदेशी कोचों के अनुबंध का विस्तार करेगा भारत

कोरोना वायरस (COVID-19) के प्रकोप के कारण ओलंपिक गेम्स स्थगित हो चुकें हैं। ऐसे में उम्मीद लगाई जा रही है कि भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) विदेश कोच के अनुबंध का जल्द विस्तार करेगा।

जहां टोक्यो गेम्स स्थगित किए गए वहीं कई विदेशी कोच भारतीय खिलाड़ियों को ट्रेंनिग दे रहे हैं। जिनका करार केवल ओलंपिक तक था, जो अब माना जा रहा है कि भारत उनकी सेवाओं को बरकरार रखेगा। दरअसल, कोरोना महामारी के चलते ओलंपिक खेलों को एक साल तक के लिए टाल दिया गया है। जिससे अब भारत में प्रशिक्षण दे रहे विदेशी कोच की सेवाएं 2021 में होने वाले ओलंपिक तक बढ़ाईं जाएंगी।

भारतीय कुश्ती महासंघ (Wrestling Federation of India) के सचिव वी एन प्रसूद (VN Prasood) ने प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया (PTI) से बात करते हुए कहा, "भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI), जो उन्हें वेतन देता है। हमें उनसे बात करनी होगी। फिलहाल हमें नहीं लगता कि विदेशी कोच का कार्यकाल बढ़ाने में कोई दिक्कत आएगी।"(

ग्राहम रीड भारतीय पुरुष हॉकी टीम के साथ साल 2019 से हैं। फोटो क्रेडिट: हॉकी इंडिया   

अगले महीने तक करार विस्तार होने की उम्मीद

दरअसल, भारतीय कुश्ती महासंघ ने महिला पहलवानों के लिए एंड्रयू कुक (Andrew Cook) और इसके साथ-साथ ग्रीको-रोमन पहलवानों के लिए जॉर्जियाई टेमो गैबिशिली (Georgian Temo Gabishvili) को प्रशिक्षण के लिए करार किया था। वहीं, सचिव वीएन प्रसूद ने आगे कहा कि कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर भारत 21 दिन के लिए लॉकडाउन है और उम्मीद है कि इसके आखिर तक इस बारे में स्थिति अधिक स्पष्ट हो जाएगी।

दरअसल, विदेशी कोचों के करार बढ़ाने की लिस्ट में महिला कुश्ती कोच एंड्रयू कुक और जॉर्जियाई टेमो गैबिशिली जैसे कई कोच हैं। जिसमें पिस्टल शूटिंग कोच पावेल स्मिरनोव (Pavel Smirnov), मुक्केबाजी कोच सेंटियागो निएवा (Santiago Nieva) और राफेल बर्गमास्को (Rafaelle Bergamasco) के साथ ही एथलेटिक्स हाई-परफॉर्मेस डायरेक्टर वोल्कर हेरमन (Volker Herrmann) भी शामिल हैं।

बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (BFI) के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि “हमारे साथ जुड़े हुए सभी विदेशी कोचों का कार्यकाल बढ़ाया जाएगा।” बताते चलें कि अब तक 9 भारतीय मुक्केबाज़ों ने इस महीने की शुरुआत में ही एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफायर्स (Asian boxing Olympic qualifiers) के ज़रिए ओलंपिक में क्व्वालिफाई कर चुके हैं।

वहीं इस बीच, भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के अध्यक्ष आदिल सुमिरवाला (Adille Sumariwalla) ने प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया से बात करते हुए वोल्कर हेरमैन के अनुबंध के विस्तार के सवाल पर पर कहा विदेशी कोच के कार्यकाल का विस्तार होना स्वाभाविक बात है।

हॉकी इंडिया के सीईओ एलेना नॉर्मन (Elena Norman) ने कहा कि “SAI के पास पहले ही पुरूष टीम के कोच ग्राहम रीड (Graham Reid) और महिला टीम के कोच शोर्ड मारिन (Sjoerd Marijne) के करार बढ़ाने का आवेदन दे दिया है।” ऐलेना नॉर्मन ने आगे कहा, "हमने SAI को एक अनुरोध भेजा है, जिसमें विदेशी कोच सहित पुरुष और महिला दोनों टीमों से जुड़े सभी कोच के अनुबंध का विस्तार किया जाए। हमने अपने सभी विदेशी कोचों से बात की है और वे सभी टोक्यो गेम्स तक रूकने के लिए तैयार हैं।"

आपको बताते चलें कि लगभग 80 भारतीय खिलाड़ियों ने टोक्यो खेलों के लिए क्वालिफाई कर चुके हैं। इसके साथ ही क्वालिफाइंग इवेंट शुरु होने पर यह संख्या और बढ़ने की उम्मीद है।