श्रीकांत की जीत पर फिरा पानी, दूसरे ग्रुप मैच में भारत को मलेशिया से मिली हार

दो एकल मैच में हार मिलने के बाद दोनों पुरुष युगल जोड़ी ने भी अपने-अपने मैच सीधे गेमों में गंवा दिए।

भारत ने गुरुवार को बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप 2020 में मलेशिया के खिलाफ अपना दूसरा ग्रुप बी मैच 1-4 से गंवा दिया, जहां किदांबी श्रीकांत भारत के पांच मैचों के टाई में एकमात्र विजेता रहे।

पहले दो मैचों में मिली हार के बाद भारत 0-2 से पीछे चल रहा था। जिसके बाद किदांबी श्रीकांत ने तीसरे मैच में जीत के साथ एक बार फिर उम्मीदों को जिंदा रखने का काम किया।

प्रणीत की हार के साथ हुआ भारत का आगाज़

भारत की ओर से सुरक्षित दांव के तौर पर शीर्ष क्रम के पुरुष शटलर बी साई प्रणीत ने टाई की शुरुआत की, लेकिन 27 वर्षीय खिलाड़ी मलेशिया के ली ज़ी जिया से सीधे गेम में हार गए।

भारतीय टीम ने ब्रेक के समय केवल एक अंक से पिछड़ते हुए एक प्रतिस्पर्धी स्तर पर मैच शुरू किया था, लेकिन मलेशियाई बैडमिंटन शीर्ष खिलाड़ी ने अगले पांच अंकों में से चार लेने से पहले 17-17 के स्कोर तक दबाव बरकरार रखा और पहला गेम 21-18 से जीत लिया।

पहले गेम के विपरीत, दूसरे गेम में बी साई प्रणीत का प्रदर्शन डगमगा गया। ब्रेक में 11-6 से आगे रहने के बाद जिया ने दूसरा गेम 21-15 से जीतते हुए मैच 2-0 से जीत अपने कब्ज़े में कर लिया और इसी के साथ भारत टाई में 0-1 से पीछे हो गया।

भारत की ओर से टाई के दूसरे मैच के लिए चिराग शेट्टी और एम. आर. अर्जुन की युगल जोड़ी गई, लेकिन मलेशिया के आरोन चिया और सोह वू वाईक के सामने उनका कोई मुक़ाबला नहीं था।

भारतीय जोड़ी सीधे गेमों में 18-21, 15-21 से मैच हार गई। यह मैच केवल 31 मिनट तक चला। इस परिणाम के साथ ही पहले दो मैचों के बाद भारत टाई में 0-2 से पीछे हो गया।

बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 में शुभांकर डे पर किदांबी श्रीकांत की रोमांचक जीत
बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 में शुभांकर डे पर किदांबी श्रीकांत की रोमांचक जीतबार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 में शुभांकर डे पर किदांबी श्रीकांत की रोमांचक जीत

श्रीकांत की जीत से जगी वापसी की आस

किदांबी श्रीकांत ने तीसरे गेम में केंद्र-चरण में प्रवेश किया, जहां वे हार के नुकसान को कम करने के लिए कोर्ट में उतरे। उनका मुकाबला चाइम जून वेई से हुआ।

पूर्व शीर्ष क्रम के भारतीय शटलर ने कभी भी इस मलेशियाई और वर्ल्ड रैंकिंग में 72वें पायदान पर काबिज़ खिलाड़ी का सामना नहीं किया था। पहले गेम में वेई किदांबी पर हावी रहे और उन्हें 21-14 से शिकस्त दी।

हालांकि, वर्ल्ड रैंकिंग में 15वें स्थान पर काबिज़ किदांबी ने समय रहते ही मैच पर अपनी पकड़ बना ली और शेष दो गेम 21-16, 21-19 से जीतकर भारत को टाई की पहली जीत दिलाई। जिसके साथ भारत अंक तालिका में 1-2 पर आ गया।

इसके बाद भारत को पांच मैचों की टाई जीतने के लिए बाकी के बचे हुए दो मैच जीतने की जरूरत थी, लेकिन बेहतरीन पुरुष युगल टीम की कमी के कारण जीत की उम्मीद कम हो गई।

लक्ष्य सेन और ध्रुव कपिला की पुरुष युगल जोड़ी टाई के चौथे मैच के लिए ओंग यू सिन और टियो ई यी के खिलाफ मैदान में उतरी। जहां वे सीधे गेमों में 14-21, 14-21 से हार गए। जिसके साथ ही मलेशिया ने 3-1 से बढ़त बना ली।

एचएस प्रणॉय ने टाई के पांचवें और अंतिम मैच में लियोंग जुन हाओ से मुकाबला किया और भारतीय दिग्गज अपने शानदार फॉर्म में न रहने की वजह से सीधे गेमों में 10-21, 15-21 से पिछड़ गए। जिसके साथ ही भारत यह टाई 1-4 से हार गया।

बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप 2020 में भारत के लिए आगे क्या है?

मलेशिया के बाद ग्रुप बी की दूसरी टीम के रूप में बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप 2020 के नॉकआउट चरणों में भारत आगे बढ़ेगा। इसके बाद वे अपने पहले नॉकआउट टाई में थाईलैंड का सामना करेंगे।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!