कठिन ग्रुप में होने के बावजूद AFC अंडर-16 चैंपियनशिप में भारत करेगा अच्छा प्रदर्शन: सुनील छेत्री

भारत के ग्रुप में दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और उज़्बेकिस्तान हैं लेकिन सुनील छेत्री का कहना है कि कोच बिबियानो फर्नांडीस सब कुछ ठीक कर रहे हैं

भारतीय सीनियर फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील क्षेत्री (Sunil Chhetri) और अंडर-19 टीम के कोच बिबियानो फर्नांडीस (Bibiano Fernandes) को उम्मीद है कि भारतीय टीम बहरीन में होने वाली AFC अंडर-16 चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन करेगी।

भारत दो बार के चैंपियन दक्षिण  कोरिया के साथ साथ 2012 के चैंपियन उज्बेकिस्तान और तीन बार के सेमीफाइनलिस्ट ऑस्ट्रेलिया के साथ कठिन ग्रुप में है।

भारत की तरफ से सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी सुनील क्षेत्री अभी भारत के प्रदर्शन को लेकर पॉजिटिव है, क्षेत्री को लगता है कि भारतीय टीम न केवल अच्छा प्रदर्शन करेगी बल्कि क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय कर सकती है।

क्षेत्री के रूप में टीम का फै़न

सुनील क्षेत्री ने कहा कि “मैं पहले ही अंडर-16 टीम का फैन हूं और टीम बिबियानो फर्नांडीस के मार्गदर्शन में अच्छा प्रदर्शन कर रही है। टीम पहले ही काफी मजबूत लग रही है। हाल ही में उन्होंने काफी अच्छी फुटबॉल खेली है, अब बस उन्हें अपने प्रदर्शन में सुधार करना है।”

इसके अलावा उन्होंने AIFF से बातचीत में कहा कि “टीम के सभी खिलाड़ी पिछली टीम ( टीम साल 2018 में क्वार्टर फाइनल में पहुंची थी) में की तुलना अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं।”

मौजूदा समय में क्रिस्टियानो रोनाल्डो (Cristiano Ronaldo) के बाद इंटरनेशनल फुटबॉल सबसे ज्यादा गोल करने वाले सुनील क्षेत्री ने महसूस किया है कि टीम के पास पूरी क्षमता है कि वह एशिया की टॉप-10 टीम में जगह बना पाए।

तैयार है भारत की अंडर-16 टीम

भारत के जूनियर टीम के कोच बिबियानो फर्नांडीस, जो इस टीम के लिए टीम की कमान संभाल रहे है, वह मुश्किल ड्रॉ से असंतुष्ट दिखे लेकिन इसके बावजूद उन्होंने अपने लड़कों पर भरोसा दिखाया।

बिबियानो फर्नांडीस ने बताया कि “मैं ड्रॉ लाइव को फॉलो तो कर रहा हूं लेकिन मैंने इसकी उम्मीद नहीं की थी। जब मैंने अपनी टीम को इस ग्रुप में देखा तो मैंने खुद से कहा कि क्वालिफ़ायर्स के लिए मेरी टीम ने पहले ही अच्छा प्रदर्शन कर दिया है।”

इसके अलावा “भारतीय अंडर-16 टीम के कोच ने कहा कि ये मुझे पूरा विश्वास है कि टीम के खिलाड़ी मजबूत टीम के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करेंगे।”

बिबियानो फर्नांडीस पिछले साल SAFF U-15 चैंपियनशिप खिताब जीतने वाली टीम को भी ट्रेनिंग दे रहे थे। इसके बाद उन्होंने AFC U-16 चैंपियनशिप के लिए क्वालिफाई करने में टीम की मदद की, जिसमें उज्बेकिस्तान भी शामिल था।

बिबियानो फर्नांडीस ने कहा कि मैं केवल एक चेहरा हूं, मेरे सपोर्ट स्टाफ पिछले 4-5 साल से पर्दे के पीछे से मेरा साथ दे रहे हैं। वह अपने काम को लेकर काफी जुझारू है और वह खिलाड़ियों का काफी ध्यान रखते हैं। यही कारण है कि खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

बिबियानो फर्नांडीस के साथ साथ पूरी टीम को उम्मीद है कि वह टूर्नामेंट में सेमीफाइनल तक जगह बनाएंगे। अगर वह ऐसा कर पाते हैं तो वह सीधा साल 2021 में होने वाले फीफा अंडर-17 में सीधे तौर पर क्वालिफाई कर लेंगे।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!