सुनील डावर ने रचा इतिहास, तोड़ा नेशनल जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 24 साल पुराना राष्ट्रीय रिकॉर्ड  

सरूसजाई स्टेडियम में डावर ने 14 मिनट 13:95 सेकंड के साथ 1996 में एन गोजेन सिंह 14:14:48 द्वारा बनाए रिकॉर्ड को तोड़ दिया

लेखक दिनेश चंद शर्मा ·

5000 मीटर के धावक सुनील डावर ने सोमवार को गुवाहाटी में आयोजित नेशनल जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में पिछला रिकॉर्ड तोड़ते हुए एक नया रिकॉर्ड कायम किया है। 

मध्य प्रदेश के डावर ने पुरुषों की अंडर-20 की 5000 मीटर स्पर्धा में 24 साल पुराना राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। उन्होंने 1996 में सिडनी में हुई वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप में एन गोजेन सिंह द्वारा 14ः14:48 समय के साथ कायम किए पिछले रिकॉर्ड को तोडृते हुए सरूसजाई स्टेडियम में 14 मिनट और 13:95 सेकंड के साथ एक नया रिकॉर्ड बनाया। 

डावर को हरियाणा के पुनीत यादव ने कड़ी चुनौती दी थी। उन्होंने न केवल राष्ट्रीय अंडर-20 रिकॉर्ड को बेहतर बनाया, बल्कि 2012 में लखनऊ में बनाए राहुल कुमार पा** के 14:18:28 के मीट रिकॉर्ड को भी तोड़ा है। डावर ने 1500 मीटर में भी जीत दर्ज कर इसे यादगार डबल बना दिया है।

जीत हासिल करने के बाद सुनील डावर

अन्य स्पर्धाओं में भी कुछ बेहतरीन प्रदर्शन देखने को मिला। हर्षिता शेरावत ने 63.33 मीटर के प्रयास के साथ अपना ही अंडर-18 हैमर थ्रो नेशनल रिकॉर्ड को और बेहतर करते हुए शानदार प्रदर्शन किया। 

17 वर्षीय शेरावत ने सितंबर 2019 में संगरूर में हुई नॉर्थ ज़ोन जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 63.62 मीटर और 63.95 मीटर का थ्रो फेंका था। हालांकि, उसने मार्च, 2019 में हांगकांग में हुई एशियाई युवा चैम्पियनशिप में रजत पदक जीतते हुए 61.93 मीटर पर नेशनल रिकॉर्ड बनाया था। 

रेस वॉकर अमित खत्री 10000 मीटर रेस वॉक के नेशनल रिकॉर्ड को बेहतर बनाने में नाकाम रहे। उन्होंने 42 मिनट 15.91 सेकंड के समय के साथ शीर्ष पोडियम में स्थान हासिल किया। खत्री ने 27 जनवरी को भोपाल में फेडरेशन कप जूनियर चैंपियनशिप में 40ः 40.97 समय के साथ पिछली प्रतियोगिताओं से बेहतर प्रदर्शन किया था। 

वहीं, आंध्र प्रदेश के यशवंत कुमार लावती ने 2010 में बेंगलुरु में जे सुरेंद्र द्वारा बनाये नेशनल और मीट रिकॉर्ड की बराबरी करते हुए 13.92 सेकंड के समय के साथ अंडर-20 पुरुषों की 110 मीटर बाधा दौड़ में जीत हासिल की।