तेजस्विन शंकर ने यूएसए इंटर-कॉलेजिएट मीट के स्वर्ण पदक पर किया कब्जा 

भारतीय हाई जम्पर ने आयोवा स्टेट क्लासिक में 2.25 मीटर की जम्प लगाकर स्वर्ण पदक किया अपने नाम।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

हाई जंप की राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी भारत की तेजस्विन शंकर (Tejaswin Shanka) ने शनिवार को संयुक्त राज्य अमेरिका में एक इंटर-कॉलेजिएट मीट में शानदा प्रदर्शन करते हुए आयोवा स्टेट क्लासिक का स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

इस 21 वर्षीय हाई जपंर ने अपनी यूनिवर्सिटी टीम कैनसस स्टेट के लिए स्वर्ण पदक जीतने के लिए 2.25 मीटर की जंप लगाई, जो कि सीजन का सबसे अच्छा प्रदर्शन है, जबकि साउथ डकोटा के ज़ैक एंडरसन (Zack Anderson) ने 2.16 मीटर की जंप के साथ रजत पदक जीता। दक्षिण डकोटा के ही एक अन्य एथलीट जैक डर्स्ट (Jack Durst )ने कांस्य पदक अपने नाम किया।  

कैनसस स्टेट विंटर पेंटाथलॉन (Kansas State Winter Pentathlon) में 2.23 मीटर के प्रयास के साथ अपने सीज़न की शुरुआत करने वाली तेजस्विन शंकर सीज़न की अपनी दूसरी इनडोर प्रतियोगिता में और बेहतर करने की उम्मीद कर रही थीं। भारतीय हाई जंपर ने निराश नहीं किया और धैर्य के साथ अपने लक्ष्य को पूरा किया।

जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी मुश्किल से 2.16 मीटर की ऊंचाई को छू सके, तेजस्विन शंकर ने अपने पहले दो प्रयास में 2.19 और 2.22 मीटर की जंप लगाई। हालांकि, भारतीय जंपर को अपने तीसरे प्रयास में 2.25 मीटर की जंप लगाने से कुछ मुश्किलों का सामना करना पड़ा।2.29 मीटर की ऊंचाई पर तीन असफल छलांग के बावजूद वो दिन की सबसे बेहतरीन जपं लगाने वाली एथलीट रहीं।

2016 में 12 साल पुराने राष्ट्रीय रिकॉर्ड को तोड़कर सुर्खियों में आने वाली तेजस्विन शंकर धीरे-धीरे अपने खेल को बेहतर करने की दिशा में आगे बढ़ रही हैं। उनका आउटडोर प्रदर्शन लगातार बेहतर हो रहा है, जिसमें उनके 2.29 मीटर की व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में सुधार देखा गया है। लेकिन ओलंपिक क्वालीफिकेशन का मार्क 2.33 मीटर होने के कारण टोक्यो 2020 का टिकट हासिल करने के लिए उन्हें बहुत अधिक मेहनत करने की ज़रुरत है।

हालांकि, यूएसए में इस बेहतरीन प्रदर्शन के बाद इस भारतीय एथलीट को ओलंपिक क्वालिफिकेशन में  शानदार प्रदर्शन के साथ टोक्यो 2020 का टिकट हासिल करने पर निगाहें होंगी