भारतीय हाई जंपर तेजस्विन शंकर ने टोक्यो 2020 के लिए क्वालिफ़ाई करने की जताई उम्मीद

भारत के हाई जंपर और नेशनल रिकॉर्ड धारक तेजस्विनी शंकर अभी भी टोक्यो क्वालिफ़ाइंग मार्क से दूर हैं लेकिन उन्हें लगता है कि ओलंपिक का स्थगित होना उनके लिए एक वरदान है।

भारतीय हाई जंपर तेजस्विन शंकर (Tejaswin Shankar) अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ को भी छूने से चूकने की वजह से चिंतित नहीं हैं।

इसके बजाय वो अपने औसत जंप की ऊंचाई में सुधार करने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं और उम्मीद कर रहे हैं कि टोक्यो ओलंपिक सहित अन्य सभी खेलों में उनका प्रदर्शन बेहतर होगा।

उन्होंने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि, "हमेशा अपने सर्वश्रेष्ठ को सुधारने का खयाल आता है लेकिन साथ ही ट्रेनिंग और वर्कआउट में भी हम अपने औसत को बेहतर बनाने की कोशिश करते हैं।”

शंकर ने कहा कि, “मेरे कोच ने मुझे कुछ आंकड़े दिखाए। उन्होंने एरिक लियोनार्ड (Eric Leonard), जेसी विलियम्स (Jesse Williams) जैसे कुछ बहुत अच्छे हाई जपंर को ट्रेनिंग दी है। उनके आंकड़ों को देखते हुए, मुझे लगा कि इन लोगों ने औसतन 2.31 से 2.32 की छलांग लगाई है, लेकिन अपने अच्छे दिन में वो 2.37-2.36 कूदने में सक्षम रहे हैं।”

21 वर्षीय तेजस्विन शंकर हाई जंप में (2.29 मीटर) भारत के नेशनल रिकॉर्ड धारक हैं, उन्होंने खेल छात्रवृत्ति के तहत कैनसस स्टेट यूनिवर्सिटी में दाखिला लिया और पिछले तीन वर्षों से संयुक्त राज्य अमेरिका में ट्रेनिंग ले रहे हैं।

इस युवा खिलाड़ी ने बताया कि वो अपने कोच की रणनीति पर पूरा विश्वास करते हैं और उम्मीद है कि जब तक उनके कोच औसत जंप में सुधार करने में सक्षम हैं, तब तक उनके नई ऊंचाइयों तक पहुंचने की संभावना काफी बढ़ जाती है।

टोक्यो ओलंपिक में मेंस हाई जंप क्वालिफिकेशन के लिए 2.33 मीटर की दूरी तय करने की जरुरत है। तेजस्विनी शंकर को खेलों के लिए क्वालिफाई करने के लिए अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ (2.29 मीटर) को पीछे छोड़ने की आवश्यकता होगी।
टोक्यो ओलंपिक में मेंस हाई जंप क्वालिफिकेशन के लिए 2.33 मीटर की दूरी तय करने की जरुरत है। तेजस्विनी शंकर को खेलों के लिए क्वालिफाई करने के लिए अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ (2.29 मीटर) को पीछे छोड़ने की आवश्यकता होगी।टोक्यो ओलंपिक में मेंस हाई जंप क्वालिफिकेशन के लिए 2.33 मीटर की दूरी तय करने की जरुरत है। तेजस्विनी शंकर को खेलों के लिए क्वालिफाई करने के लिए अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ (2.29 मीटर) को पीछे छोड़ने की आवश्यकता होगी।

तैयारी पर है पूरी नज़र

हालाँकि, तेजस्विन शंकर ने माना कि ये काम आसान नहीं है।

"वहां तक पहुंचने के लिए बहुत समय लगेगा। उस स्तर तक पहुंचने के लिए ट्रेनिंग बहुत महत्वपूर्ण है। आपको हर दिन मेहनत करनी होगी और अगले दिन का इंतज़ार करना होगा और फिर से वही काम करना होगा।''

उन्होंने कहा कि, "खेल में जिन महान खिलाड़ियों के बारे में बात की जाती है, वो ऐसा ही करते हैं।"

शंकर ने कहा कि उन्होंने इस प्रक्रिया में पूरी तरह से अपना समय दिया और परिणाम के लिए धैर्य रखा।

"एक महत्वपूर्ण बात ये है कि किसी प्रक्रिया को पूरा करने या किसी स्थान पर पहुंचने के लिए जल्दबाज़ी में रहने की बजाय प्रक्रिया को समझने और प्यार करने की ज़रूरत है।"

टोक्यो ओलंपिक के लिए उम्मीदें

टोक्यो ओलंपिक में मेंस हाई जंप क्वालिफिकेशन के लिए 2.33 मीटर की दूरी तय करने की जरुरत है। तेजस्विनी शंकर को

खेलों के लिए क्वालिफाई करने के लिए अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ (2.29 मीटर) को पीछे छोड़ने की आवश्यकता होगी।

ये एक मुश्किल काम हो सकता है, लेकिन इस युवा खिलाड़ी का मानना है कि अगले साल ओलंपिक के स्थगित होने के कारण, जो समय मिला है वो उनके पक्ष में हो सकता है।

"खेलों के स्थगन ने मुझे प्रभावित नहीं किया क्योंकि मैं खेलों के लिए क्वालिफाई नहीं कर पाया था और अगले साल तक मेरी उम्र एक साल और बढ़ जाएगी और शायद मैं अधिक परिपक्व हो जाऊंगा। मेरे पास ट्रेनिंग के लिए अधिक समय होगा।” शंकर के इस बात को आईएएनएस समाचार एजेंसी ने कोट किया था।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!