थाईलैंड ओपन: साइना नेहवाल सहित सभी भारतीय खिलाड़ियों की कोरोना रिपोर्ट आई निगेटिव

बायो बबल में जाने से पहले की गई थी सभी खिलाड़ियों की कोरोना जांच

लेखक भारत शर्मा ·

थाईलैंड ओपन के लिए बनाए गए बायो बबल (ग्रीन-जोन क्वारंटाइन घेरा) में प्रवेश से पहले कराई गई खिलाड़ियों की कोरोना जांच में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के लिए दुनियाभर 824 खिलाड़ी बैंकाक पहुंचे हैं और सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

बायो बबल की व्यवस्था विशेष रूप से खिलाड़ियों और उस सभी सहयोगियों के लिए की गई है जो रैफरी, लाइन रैफरी, बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (BWF), थाईलैंड बैडमिंटन एसोसिएशन, चिकित्सा कर्मचारियों और टीवी प्रोडक्शन कर्मचारियों के साथ सीधे संपर्क में रहने वाले हैं।

BWF ने एक बयान में कहा, "सभी अंतरराष्ट्रीय बायो बबल प्रतिभागियों को बैंकॉक जाने से पहले अपने ही देश में कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करनी थी। इसके बाद उनका बैंकाक पहुंचने पर उनका फिर से कोरोना टेस्ट किया गया।"

कोरोना की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद सभी खिलाड़ियों को प्रशिक्षण की मंजूरी दे दी गई है, लेकिन, सभी को सख्त सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। इसके अलावा 14-दिवसीय निगरानी अवधि में भी सभी क्वारंटाइन नियमों का पालन करना होगा।

बयान में कहा गया है, "अधिक सुरक्षा के लिए खिलाड़ियों का बीच-बीच में भी कोरोना टेस्ट किया जाएगा और यह प्रक्रिया 31 जनवरी को BWF वर्ल्ड टूर फाइनल होने तक जारी रहेगी।"

बैडमिंटन मैच के दौरान साइना नेहवाल

प्रशिक्षकों और चिकित्सकों को भी खिलाड़ियों से मिलने से रोक दिया गया है। हालांकि, नेहवाल ने BWF से इस मामले को देखने का अनुरोध किया है, क्योंकि यह कोर्ट में खिलाड़ियों के प्रदर्शन को प्रभावित कर सकता है।

दो सुपर 1000 इवेंट्स - योनेक्स थाईलैंड ओपन और टोयोटा थाईलैंड ओपन क्रमशः 12 जनवरी और 19 जनवरी से शुरु होने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

साइना नेहवाल, पारुपल्ली कश्यप, एचएस प्रणय शटलर जैसे बड़े नामों के अलावा, समीर वर्मा, ध्रुव कपिला, मनु अत्री आदि शनिवार को दुबई के रास्ते हैदराबाद से बैंकाक के लिए रवाना हुए। पीवी सिंधु लंदन से सीधी दुबई पहुंचकर खिलाड़ियों के दल में शामिल हुईं।

ओलंपिक के लिए स्थान पक्का करने वाली जोड़ी सात्विकसाइराज रेंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी तथा अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी ने भी बैंकाक की यात्रा की है। हालांकि, होनहार युवा लक्ष्मण सेन चोट से उबरने के कारण इस टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले सकेंगे।