इंडियन स्पोर्ट्स राउड-अप: हॉकी टीम की परीक्षा, रोजर फेडरर ने सचिन तेंदुलकर को क्यों किया टैग

भारतीय हॉकी टीम और भारतीय टेबल टेनिस सितारों ने लॉकडाउन के दौरान की एक अनूठी ट्रेनिंग, पूरे सप्ताह की सबसे बड़ी ख़बरें।

COVID-19 महामारी के कारण पूरे देश में लागू लॉकडाउन में ढील दिए जाने के बाद घर वापस लौटे भारतीय पुरुष और महिला हॉकी टीमों के खिलाड़ियों ने इस सप्ताह खेल के पहलुओं को बेहतर करने के लिए स्कूल की ओर कदम बढ़ाए हैं।

हॉकी इंडिया द्वारा आयोजित अभ्यास में खिलाड़ियों को पावरपॉइंट प्रेजेंटेशन और पढ़ाई करने वाली सामग्री दी गई, जिसमें नियम पुस्तिका भी शामिल है।

इनका अध्ययन करने के बाद, उन्होंने एक ऑनलाइन परीक्षा दी और प्रत्येक खिलाड़ी को एक अलग प्रश्न पत्र मिला।

भारतीय राष्ट्रीय पुरुष हॉकी टीम के कोच ग्राहम रीड (Graham Reid) इस पहल से काफी खुश थे।

उन्होंने न्यू इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि, “क्लास में बहुत सारी चीजें थीं, उदाहरण के लिए नियम। हम इस बात से बहुत खुश थे कि हम इस दिन और उम्र के साथ रेफरल और हर चीज के साथ जा रहे थे, खिलाड़ियों के लिए भी सीखना बहुत महत्वपूर्ण है।”

टेबल टेनिस स्टार ने मदद के लिए बढ़ाए हाथ

COVID-19 की स्थिति विश्व स्तर पर खेलों के लिए एक चुनौती बनकर उभरी है, विशेषकर जमीनी स्तर पर। लेकिन भारतीय टेबल टेनिस स्टार अचंता शरत कमल (Achanta Sharath Kamal), जी साथियान (G Sathiyan) और नेहा अग्रवाल (Neha Aggarwal) ने मदद के लिए हाथ बढ़ाए हैं।

View this post on Instagram

We are so proud of our successful #OurChanceToServe campaign: Funds Raised: Rs.17 Lakhs Beneficiaries: 170 players/coaches/staff Donors: 250+ States reached: 18 Excellent team effort @sharathkamal and @sathiyantt. For me the thrill, joy, hard work, jitters during tensed moments, strategy planning and execution in these last 14 days was like back to representing India at any international tournament. I knew I had the best teammates in this tournament💪🏓 Our big thanks to all our generous donors for trusting us and joining hands in these tough times, we could not have done with you 🙏 To all our team of intermediaries who helped us identify all the beneficiaries at the grassroots of #TableTennis - thank you for riding this journey with us 😃 And finally, a big thank you to @gosportvoices for your superb backend support! Sport has a unique power to unite. So happy we could all together #PlayForIndia

A post shared by Neha Aggarwal (@nehaaggarwal11) on

सेवा करने का मौका हमारा (Our chance to serve) नाम की पहल शुरू कर वे धन इकट्ठा करने के लिए डोनर्स तक पहुंच रहे हैं, जिन्हें सौ से अधिक खिलाड़ियों, कोचों, रेफरी और अंपायरों की सहायता के लिए में सौंपा जाएगा। जो जमीनी स्तर पर COVID-19 के कारण लागू लॉकडाउन से काफी प्रभावित हैं।

तीन बार के ओलंपियन शरथ कमल ने ईएसपीएन को बताया कि, “लॉकडाउन के बाद से वो किसी भी ट्रेनिंग क्लास को चलाने में असमर्थ रहे हैं। मुझे ये भी पता है कि बहुत सारे कोच ऐसे हैं, जिनकी आजीविका पूरी तरह से गर्मियों की क्लास के संचालन पर निर्भर करती है, लेकिन उन्होंने मार्च के बाद से कोई काम नहीं किया है।”

अब तक, तीनों ने मिलकर 17 लाख रुपये से अधिक इकट्ठा कर लिया है।

लय में लौटने की कोशिश कर रहे हैं केटी इरफान

लॉकडाउन में धीरे-धीरे ढील दिए जाने के कारण, एथलीट भी धीरे-धीरे वापस ट्रैक पर आ रहे हैं।

उनमें से टोक्यो के लिए क्वालिफाई करने वाले भारतीय रेस वॉकर केटी इरफान (KT Irfan) और भावना जाट (Bhawna Jat) ने बेंगलुरु में SAI सेंटर में फिटनेस के लिए तेज चलना शुरू कर दिया है।

केटी इरफान ने न्यू इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि, “लंबे समय बाद ट्रैक पर आना हुआ है, इसलिए कुछ दिक्कत थी। लेकिन ये अच्छा है कि हम बाहर ट्रेनिंग कर रहे हैं।”

इस बीच, भावना जाट धीरे-धीरे खुद को पहले की तरह ढ़ालने की कोशिश कर रही हैं।“ट्रेनिंग शुरू किए हुए ज्यादा दिन नहीं हुआ है। ये बहुत महत्वपूर्ण है कि हम अभी बहुत अधिक प्रेशर न लें।

मास्टर-ब्लास्टर ने टेनिस में आजमाया हाथ

भारतीय क्रिकेट के महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) अपने खेल के दिनों में स्ट्रेट ड्राइव के माहिर थे, लेकिन अब टेनिस में अपने फोरहैंड को परफेक्ट करना चाहते हैं।

द लिटिल मास्टर कुछ टिप्स के लिए टेनिस के दिग्गज रोजर फेडरर (Roger Federer) के पास भी पहुंच गए।

हिमा दास ने ट्रैक पर चलाई साइकल

भारत की उभरती हुई चैंपियन खिलाड़ी और ट्रैक एंड फील्ड सनसनी हिमा दास (Hima Das) अगले साल टोक्यो खेलों के लिए क्वालिफाई करने के लिए अपनी फिटनेस पर ध्यान दे रही हैं। ऐसे में वो ट्रैक पर अपनी गति को वापस पकड़ने की कोशिश कर रही हैं।

हिमा ने पटियाला में NIS परिसर में अपने साइकिल चलाने का एक वीडियो साझा किया।

लवलीना बोरगोहेन ने खेती में आज़माया हाथ 

भारतीय मुक्केबाज़ लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) ने आगामी खेलों के लिए अपनी जगह पहले ही पक्की कर ली है।

इस मुक्केबाज़ ने बिना अपने मुक्केबाज़ी दस्ताने पहने, अपने परिवार के साथ खेती में हाथ आज़माया।

ओलंपिक चैनल की बेस्ट ऑफ़ द वीक 

इस मुश्किल घड़ी में फैंस के लिए ओलंपिक चैनल ने कुछ खिलाड़ियों के सबसे प्रतिष्ठित मैचों को फिर से दिखाया, जिन मैचों से भारत को दो गोल्डन गर्ल्स मिलीं - सानिया मिर्जा (Sania Mirza) और साइना नेहवाल (Saina Nehwal)।

सानिया के सर्वश्रेष्ठ मैचों के लिए यहां क्लिक कीजिए और साइना के करियर के सर्वश्रेष्ठ  मैचों के लिए यहां क्लिक कीजिए

एक बार फिर से उन यादों को ताज़ा कीजिए।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!