राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में दर्शकों के प्रवेश की अनुमति से उत्साहित है WFI   

हाल ही में जारी हुई SOP के अनुसार आउटडोर आयोजनों के लिए स्टेडियम में बुलाए जा सकते हैं कुल क्षमता के 50 फीसदी दर्शक

लेखक दिनेश चंद शर्मा ·

राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता जनवरी और फरवरी 2021 में होने वाली है। इसको लेकर रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) स्टेडियम के अंदर दर्शकों को अनुमति देने की संभावनाओं पर विचार कर रहा है।

भारत सरकार ने अनलॉक प्रक्रिया के तहत 26 दिसंबर को नया निर्देश जारी किया। इसमें तहत देश में खेल प्रतियोगिताओं को स्टेडियम की कुल क्षमता का अधिकतम 50 फीसदी तक दर्शकों की मेजबानी करने की अनुमति दी गई है।

इंडोर में दर्शकों की संख्या केवल 200 तक ही सीमित रहेगी। अगर राज्य सरकार आयोजन की मेजबानी करती है तो वह तो वह इस संख्या को 100 या उससे कम भी कर सकती है। कुश्ती इनडोर स्टेडियमों में आयोजित की जाती है। ऐसे में दर्शकों की संख्या 200 के आसपास ही रहने की उम्मीद है।

WFI के सहायक सचिव विनोद तोमर ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, "हां, कुश्ती नेशनल्स में दर्शक दिख सकते हैं।"

नेशनल्स के लिए तीन स्थानों का चयन किया गया हैै। 23 और 24 जनवरी को नोएडा की चंद्र मौली पांडेय कुश्ती अकादमी में सीनियर वर्ग के पुरुषों की फ्रीस्टाइल नेशनल प्रतियोगिता होगी।

प्रतियोगिता में कुश्ती लड़ते खिलाड़ी

सीनियर वर्ग की महिला पहलवान 30 और 31 जनवरी को लारमदा, आगरा के होली लाइट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में जोर-अजमाइश करते हुए पसीना बहाऐंगी। ग्रीको रोमन प्रतियोगिता 20 और 21 फरवरी को पंजाब के जालंधर में जगजीत सिंह अकादमी में होगी।

जालंधर में एक अकादमी के मालिक जगजीत सिंह सरोया भी स्टेडियम में दर्शकों की वापसी को लेकर उत्साहित हैं और इसके लिए सरकार से हरी झंडी मिलने का इंतजार कर रहे हैं।

सिंह ने कहा, हमें दर्शक चाहिए, लेकिन यह सब हमें मिलने वाली प्रतिक्रिया पर निर्भर करता है।

चार भारतीय पहलवान पहले ही टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं। विनेश फोगाट ने महिला फ्रीस्टाइल 53 किलोग्राम श्रेणी में टिकट हासिल कर लिया है। जबकि, बजरंग पूनिया, रवि कुमार दहिया और दीपक पूनिया ने क्रमशः 65 किग्रा, 57 किग्रा और 86 किग्रा पुरुषों की फ्रीस्टाइल श्रेणियों में क्वालीफाई किया है।

बजरंग पूनिया और विनेश फोगाट विदेश में प्रशिक्षण ले रहे हैं। इस कारण वो नेशनल्स में भाग नहीं लेंगे। पूनिया अमेरिका में प्रशिक्षण ले रहे हैं, जबकि फोगाट हंगरी और पोलैंड की यात्रा के लिए तैयार हैं।

दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार भी फिटनेस का हवाला देते हुए नेशनल्स से बाहर हो गए हैं। इसका मतलब है कि 74 किग्रा भार वर्ग में नरसिंह यादव के खिलाफ उनका बहुप्रतीक्षित मुकाबला नहीं होगा।