विश्व जूनियर चैंपियन हृदय हजारिका ने चयन ट्रायल में बनाया विश्व रिकॉर्ड  

महिलाओं की एयर राइफल स्पर्धा में इलावेनिल वालारिवान ने ओलंपियन अयोनिका पॉल पर दो अंकों से जीत दर्ज की

लेखक दिनेश चंद शर्मा ·

भारतीय निशानेबाजी दल की अगली पीढी टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने की तैयारी में जुटी है।

शनिवार को 19 वर्षीय हृदय हजारिका ने डॉ. कर्णी सिंह रेंज में राष्ट्रीय शूटिंग चयन ट्रायल में रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन के साथ 10 मीटर पुरुषों की एयर राइफल स्पर्धा में शीर्ष स्थान पर कब्जा जमाया। 

उन्होंने शूटिंग के दौरान 253.2 का स्कोर किया, जो इस स्पर्धा में विश्व रिकॉर्ड (30 अगस्त, 2019 को ब्राजील के रियो डी जेनेरियो में इंटरनेशनल स्पोर्ट शूटिंग फेडरेशन राइफल और पिस्टल वर्ल्ड कप में चीन के यू हॉनन ने 252.8 स्कोर किया था) से ज्यादा है।

पूर्व जूनियर विश्व चैंपियन हजारिका ने 628.4 के स्कोर के साथ सातवें स्थान पर क्वालिफाई किया। उन्होंने फाइनल में ऐश्वर्या प्रताप सिंह तोमर (जिन्होंने पुरुषों की 50 मीटर 3 पोजिशन राइफल स्पर्धा में टोक्यो 2020 के लिए कोटा हासिल किया है।) को 1.7 अंकों से हराया। वहीं, अर्जुन बाबूता ने 230.0 अंक हासिल करते हुए तीसरे स्थान प्राप्त किया।

किशोर सनसनी हजारिका पहली बार जून, 2018 में जर्मनी के सुहल में सुर्खियों में आये थे जब उन्होंने जूनियर विश्व कप की 10 मीटर एयर राइफल प्रतियोगिता में जीत हासिल की थी। उन्होंने फाइनल में 248.7 के स्कोर के साथ शीर्ष पोडियम स्थान हासिल किया। वो जर्मनी के रजत पदक विजेता मैक्सिमिलियन अलब्रिच से 0.3 अंक से आगे थे और गंगफेंग फू ने 226.9 स्कोर के साथ कांस्य पदक जीता था।

निशानेबाजी का अभ्यास करते हुए शूटर हृदय हजारिका

दक्षिण कोरिया के चांगवोन में उन्होंने जूनियर ISSF विश्व चैम्पियनशिप जीती। अंतिम शॉट के बाद 250.1 अंक से बराबरी पर रहने के बाद शूट-ऑफ में ईरान के अमीर नोकुनाम को हराने के लिए हजारिका ने धैर्य का प्रदर्शन किया। 

विश्व चैंपियनशिप का स्वर्ण पदक जीतने के लिए हज़ारिका के लिए पहला शॉट ही काफी था, क्योंकि उन्होंने नोकुनाम के 10.2 की तुलना में 10.3 स्कोर बनाया था।

उधर, शनिवार को भारतीय चयन ट्रायल में महिलाओं की एयर राइफल स्पर्धा में वर्ल्ड की नम्बर 1 इलावेनिल वालारिवान ने 251.7 का स्कोर किया और ओलंपियन अयोनिका पॉल पर दो अंकों के अंतर से जीत दर्ज की। जबकि श्रींका सदांगी ने तीसरा स्थान हासिल किया। 

निशा कंवर (631.8) ने क्वालिफिकेशन में शीर्ष पर रहते हुए छठा स्थान हासिल किया। जबकि टोक्यो का कोटा हासिल कर चुकी अपूर्वी चंदेला (625.9) ने 9वां और अंजुम मौदगिल (623.1) ने 19वां स्थान प्राप्त किया।