वर्ल्ड पैरा एथलेटिक्स ग्रां प्री: सिमरन और नीरज यादव ने भारत को जिताए दो स्वर्ण पदक

सीमरन ने महिलाओं की 100 मीटर की T-13 फाइनल में 12.74 सेकंड के समय के साथ जीता स्वर्ण

लेखक भारत शर्मा ·

भारतीय पैरा-एथलीटों ने 12वीं फाजा अंतरराष्ट्रीय चैंपियनशिप विश्व पैरा एथलेटिक्स ग्रां प्री के दूसरे दिन भी अपने बेहतरीन पदर्शन को बरकरार रखते हुए दो स्वर्ण सहित पांच पदक अपने नाम किए।

सिमरन ने 12.74 सेकंड के समय के बाद महिलाओं की 100 मीटर T-13 फाइनल में स्वर्ण पदक जीता। संयोग से यह 2019 में चीन ग्रां प्री के बाद उनका दूसरा अंतर्राष्ट्रीय पदक है।

दृष्टिबाधित एथलीट के हवाले से IANS ने कहा, "अंतत: अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करना बहुत अच्छा लग रहा है। लगभग दो साल बाद, मैं एक इवेंट में प्रतिस्पर्धा कर रही थी। हालांकि, मुझे अपनी हैमस्ट्रिंग में कुछ दर्द महसूस हो रहा था। यह एक उभरने वाली चोट है।"

उन्होंने कहा, "मेरा सपना टोक्यो 2020 पैरालिंपिक खेलों में विश्व रिकॉर्ड तोड़ने का है। मैनें ओलंपिक के लिए 11.40 सेकेंड का लक्ष्य निर्धारित किया है। मैं अब अपनी टाइमिंग को बेहतर बनाने के लिए कड़ी मेहनत करूंगी।"

इस बीच, नीरज यादव ने पुरुषों के डिस्कस थ्रो F55 में 35.49 मीटर की दूरी के साथ शीर्ष पोडियम स्थान हासिल किया।

भारतीय पैरा-एथलीट प्रवीण कुमार (5.95 मीटर) और परदीप (5.73 मीटर) ने पुरुषों की लंबी कूद के फाइनल में क्रमश: दूसरा और तीसरा स्थान हासिल किया और देश की झोली में एक रजत और एक कांस्य डाला।

भाग्यश्री महावीर जाधव ने इस बीच महिलाओं की भाला फेंक F34 में 11.36 मीटर के थ्रो के साथ कांस्य पदक का दावा किया।

इससे पहले गुरुवार को देवेंद्र कुमार और निमिषा सुरेश चक्रकुंपरम्बिल ने पहले दिन अपने-अपने इवेंट में स्वर्ण पदक हासिल करने में सफलता हासिल की थी।

देवेंद्र ने पुरुषों की डिस्कस थ्रो F44 स्पर्धा में स्वर्ण लेने के अपने दूसरे प्रयास में 50.61 मीटर की दूरी तक डिस्कस फेंका, जबकि निमिशा ने महिलाओं की F46 / 47 स्पर्धाओं में 5.25 मीटर की छलांग के साथ शीर्ष पोडियम स्थान हासिल किया।