एक्सक्लूसिव: ऑनलाइन इंटरनेशनल शूटिंग चैंपियनशिप जीतने वाले को जल्द ही मिलेगी इनामी राशि - शिमोन शरीफ़

चौथी ऑनलाइन इंटरनेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में भारतीय महिला शूटर यशस्विनी देसवाल ने जीता एक बार फिर गोल्ड

भारत की पिस्टल निशानेबाज यशस्विनी देसवाल (Yashaswini Deswal) ने शनिवार को इंटरनेशनल ऑनलाइन शूटिंग चैंपियनशिप के चौथे संस्करण के 10 मी एयर पिस्टल प्रतिस्पर्धा में एक बार फिर पहला स्थान हासिल किया।

हालांकि 23 वर्षीय निशानेबाज अपने पिछले सीजन के स्वर्ण पदक-विजेता स्कोर 243.8 के बराबर स्कोर नहीं कर पाई लेकिन आईएसएसएफ रियो डी जनेरियो विश्व कप के स्वर्ण पदक विजेता ने इस बार 243.6 अंक हासिल किए और यह गोल्ड जीतने के लिए काफी था।

10 मीटर एयर पिस्टल प्रतियोगिता की पोडियम में सिर्फ भारतीय निशानेबाजों का जलवा रहा क्योंकि दूसरे स्थान पर अशीष डबास (Ashish Dabas) रहे तो अनीश भानवाला (Anish Bhanwala) ने तीसरा स्थान हासिल किया।

जहां एक तरफ आशीष डबास ने यशस्विनी देसवाल को टक्कर देते हुए 243.1 पॉइंट हासिल किए तो 2018 कॉमनवेल्थ वेल्थ गोल्ड मेडलिस्ट अनीश भानवाला ने 222.3 अंक हासिल करते हुए तीसरा स्थान हासिल किया।

इस टूर्नामेंट में दो बार हिस्सा लेने वाली मनु भाकर (Manu Bhaker) ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा कि ऑनलाइन शूटिंग चैंपियनशिप से निश्चित तौर पर ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले निशानेबाजों को फायदा होगा। हालाँकि इस संस्करण में मनु भाकर ने शिरकत नहीं की थी।

पिछली बार टूर्नामेंट में कांस्य पदक जीतने वाली 18 साल की इस शूटर ने कहा कि “इससे आपको प्रतिस्पर्धा के साथ साथ प्रैक्टिस भी मिलती है।”

मार्टिन स्ट्रेम्पफ्ले के नाम रहा दिन

इन सब के बीच ऑस्ट्रिया के शूटर मार्टिन स्ट्रेम्पफ्ले (Martin Strempfl) ने दिन की सबसे बड़ी सुर्खियां बटोरो। टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर चुके है इस निशानेबाज ने 10मीटर एयर राइफल प्रतियोगिता में सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा।

मार्टिन स्ट्रेम्पफ्ले ने 633.7 के स्कोर के साथ फाइनल राउंड में क्वालिफाई किया। इसके साथ ही उन्होंने पिछले क्वालिफिकेशन वर्ल्ड रिकॉर्ड से 0.2 अंक अधिक हासिल किए।

इतना ही नहीं इस 35 साल के ऑस्ट्रिया के निशानेबाज ने मुख्य प्रतियोगिता में 253.8 का स्कोर हासिल किया, जो कि वर्ल्ड रिकॉर्ड से 1 पॉइंट ज्यादा है, इसी का साथ उन्होंने अंतिम राउंड में ऑनलाइन राइफल प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता।

मार्टिन स्ट्रेम्पफ्ल के बाद दूसरे और तीसरे स्थान पर दोनों भारतीय रहे। रुद्राक्ष पाटिल (Rudrankksh Patil) ने जहां दूसरा स्थान हासिल किया तो विष्णु शिवराज पांडियन (Visnu Shivaraj Pandian) तीसरे स्थान पर रहे।

महाराष्ट्र के रुद्राक्ष पाटिल ने पिछली बार राइफल इवेंट में वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ते हुए 252.9 का स्कोर बनाया था लेकिन इस बार भारतीय शूटर 251.7 अंक ही हासिल कर पाए और उन्हें सिल्वर पदक से संतोष करना पड़ा। वहीं विष्णु शिवराज पांडियन ने 226.5 अंक हासिल करते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया।

इंटरनेशनल ऑनलाइन शूटिंग चैंपियनशिप के इस चौथे सीजन में 11 देशों के शूटर्स ने हिस्सा लिया। शिमोन शरीफ़ (Shimon Sharif) ने कोरोना महामारी के बीच इसका सफल आयोजन किया।

शिमोन शरीफ़ ने ओलंपिक चैनल से एक्सक्लूसिव बातचीत में बताया कि, “मैं यह देखकर खुश हूं कि ऑनलाइन शूटिंग की हमारी अवधारणा अब लॉकडाउन से आगे बढ़ रही है, क्योंकि हमने देखा कि चौथे सीजन में शूटर्स स्थानीय रेंज से शूटिंग करते देखे गए।"

इसके अलावा उन्होंने ये भी कहा कि “पहले जिनके पास होम रेंज सेटअप था, वह ही इसमें भाग ले सकते थ लेकिन अब स्थानीय रेंज तक पहुंचने वाले निशानेबाज भी इस टूर्नामेंट का हिस्सा बन सकते हैं।"

शिमोन ने अपनी बात ख़त्म करते हुए कहा कि “हर प्रतियोगिता के साथ हम बेहतर होते जा रहे हैं, बेहतर से मतलब इसके आयोजन से है और जल्दी ही इसमें इनामी राशि भी जोड़ने वाले हैं।”

रिज़ल्ट्स:

10 मीटर एयर राइफल: 1. मार्टिन स्ट्रेम्पफ्ल (ऑस्ट्रिया) 253.8 (633.7); 2. रुद्राक्ष पाटिल (भारत) 251.7 (631.3); 3. विष्णु शिवराज पांडियन (भारत) 226.5 (626.2)

10 मीटर एयर पिस्टल: 1. यशस्विनी देसवाल (भारत) 243.6 (576); 2. आशीष डबास (भारत) 243.1 (577); 3. अनीश भानवाला (भारत) 222.3 (578)

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!