टेनिस

राफ़ेल नडाल के डॉक्टर ने मेरे घुटने को ठीक किया: युकी भांबरी 

भांबरी के दाहिने घुटने में लगी चोट की सर्जरी करना बेहद मुश्किल था

लेखक सैयद हुसैन ·

भारत के दिग्गज एकल टेनिस खिलाड़ी युकी भांबरी जो एक साल बाद कोर्ट पर वापसी करने के लिए तैयार हैं, उन्होंने ओलंपिक चैनल के साथ बातचीत में इस बात का ख़ुलासा किया कि उनकी घुटने की चोट ठीक करने में राफ़ेल नडाल के लंबे समय से डॉक्टर रहे एंजेल रुइज़ कोटोरो का योगदान है। क्योंकि दूसरे डॉक्टरों ने इसे ठीक करने और सर्जरी करने से मना कर दिया था।

युगी भांबरी को 2018 अक्तूबर में एंटवर्प एटीपी टूर्नामेंट के दौरान दाएं घुटने में चोट आ गई थी। इस चोट से उबरने में दिल्ली के इस टेनिस खिलाड़ी को ज़रूरत से ज़्यादा समय लगा, जिस वजह से वह टेनिस कोर्ट से क़रीब डेढ़ साल दूर रहे।

‘’इस चोट से निजात पाने में इसलिए भी अधिक समय लगा, क्योंकि मैंने कई सलाहकारों से बिना किसी परिणाम के मशवरा लिया था।‘’ युकी भांबरी ने ओलंपिक चैनल के साथ बातचीत में ये कहा।

जब सभी विकल्प ख़त्म होने लगे तो युकी भांबरी ने बार्सिलोना में रहने वाले डॉक्टर एंजेल रुइज़ कोटोरो का रुख़ किया।

‘’मैंने अमेरिका में इलाज कराया, जहां बहुत समय गया लेकिन इसके उपचार पर कोई नतीजा नहीं निकला। इसके बाद जब मेरी मुलाक़ात स्पेन में राफ़ेल नडाल के डॉक्टर से हुई तब जाकर कुछ सकारात्मक चीज़ सामने आई। आख़िरकार मुझे सफलता बार्सिलोना पहुंचकर मिली।‘’ : युकी भांबरी, भारतीय टेनिस खिलाड़ी

युकी भांबरी की चोट बहुत जटिल और पेचीदा थी, और यही वजह थी कि कोई सर्जरी करने को तैयार नहीं था, बिना सर्जरी के इसके उपचार में बहुत समय लग रहा था।

‘’टेंडन के बीच में छोटा सा टीयर होने की वजह से वहां चाक़ू लगाना मुश्किल था। लिहाज़ा इसके उपचार में मुझे ज़्यादा वक़्त लग रहा था और साथ ही घुटने के लिए कई तरह के व्यायाम करने थे।‘’

‘’डॉक्टरों और फ़िज़ियो के साथ मुझे कुछ महीने बार्सिलोना में बिताने पड़े और कई तरह के इंजेक्शन भी लेने पड़े जो इस उपचार का हिस्सा थे। अब मैं दिल्ली वापस आ चुका हूं और टेनिस गेंद के साथ प्रैक्टिस भी शुरू कर दी है, लेकिन अभी भी शरीर को थोड़ा और वक़्त चाहिए।‘’

सैन्टेंडर विश्वविद्यालय के मेडिसिन एंड सर्जरी में स्नातक एंजेल रुइज कोटरो स्पोर्ट्स मेडिसिन में एकस्पर्ट हैं।  वह कई विश्व स्तरीय एथलीटों के साथ सालों से जुड़े हुए हैं, जिनमें सबसे प्रसिद्ध राफेल नडाल, जुआन मार्टिन डेल पोत्रो हैं।

हालांकि भांबरी के लिए चोट से वापसी करना आसान नहीं था क्योंकि उन्हें दोबारा लय हासिल करने और अपनी पुरानी गति हासिल करने के लिए प्रैक्टिस के साथ साथ व्यायाम भी करने थे।

"मैंने लंबे समय तक नहीं खेला, इसलिए शरीर अब उस अवस्था में नहीं है। मैं अच्छी प्रैक्टिस करना चाहता हूं, लेकिन एक ही समय में अपने घुटने को चोट नहीं पहुंचाने के लिए सतर्क भी रहना पड़ रहा है। हालांकि मैं क़रीब क़रीब 70-80 प्रतिशत उस लय में लौट चुका हूं।‘’ : युकी भांबरी, भारतीय टेनिस खिलाड़ी

महाराष्ट्र ओपन में वापसी करने पर युकी भांबरी नज़र थी, लेकिन अभी भी वह पूरी तरह से फ़िट नहीं होने की वजह से इस प्रतियोगिता का हिस्सा नहीं होंगे। लेकिन उम्मीद है कि आने वाले क्ले कोर्ट सीज़न में वह वापसी करेंगे।